फर्जीवाड़ा: महिला ने काराया था कोरोना टेस्ट, लेकिन फोन पर आई पुरुष की रिपोर्ट

.... जब उन्होंने रिपोर्ट देखी तो उसमें पुरुष का नाम दर्ज था।

By: Ashtha Awasthi

Published: 19 May 2021, 04:13 PM IST

इंदौर। वैक्सीनेशन (Vaccination) शुरु होने के बाद से लगतार फर्जीवाड़े की खबरे सामने आ रही है। वहीं अब कोरोना सैंपल को लेकर भी आए दिन नई-नई खबरें सामने आ रही हैं। बीते दिन शहर के इंद्रपुरी क्षेत्र में रहने वाली परमीतसिंह को किसी तरह की परेशानी नहीं है और ना ही उन्होंने कोरोना टेस्ट सैंपल दिया था।

MUST READ: फायदेमंद वैक्सीन: टीके के बाद भी लोगों को हो रहा कोरोना संक्रमण, लेकिन जान को खतरा नहीं

corona.jpg

फोन पर पॉजिटिव होने का मैसेज आया

सोमवार को सुबह 6 बजे उनके फोन पर अचानक मैसेज आया कि वे कोरोना पॉजिटिव हैं। टेस्ट देने की तारीख भी 22 अप्रेल है। इसी तरह सपना संगीता क्षेत्र में रहने वाली महिला आयुषी पटेल (परिवर्तित नाम) ने 15 मई को कोरोना टेस्ट सैंपल दिया था। 16 मई को उनके नंबर पर पॉजिटिव होने का मैसेज आया।

जब उन्होंने रिपोर्ट देखी तो उसमें पुरुष का नाम दर्ज था। दोनों की एसआरएफ आइडी एक ही थी। इस पूरे मामले में कोरोना के जिला नोडिल अधिकारी अमित मालाकार का कहना है तकनीकी कारणों से यह गलती हुई है। जांच कर रहे हैं। वहीं कुछ दिन पहले ही शहर में कोरोना वैक्सीन लगे बिना ही सर्टिफिकेट जारी हो रहा है। पूर्व पार्षद सतीश नायक के साथ ऐसा ही हुआ। वे दूसरी डोज लगवाने के लिए केंद्र की तलाश ही कर रहे थे कि दूसरी डोज लगने का सर्टिफिकेट मिल से गया।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned