कोरोना मरीजों के इलाज में लगे स्वास्थ्य कर्मियों को प्रतिमाह दी जाएगी 10 हज़ार की सेवा राशि

सीएम बोले - इंदौर सहित प्रदेश में हो रही है कोरोना की व्यापक टेस्टिंग

By: KRISHNAKANT SHUKLA

Updated: 18 Apr 2020, 07:56 AM IST

इंदौर : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि इंदौर सहित प्रदेश में व्यापक रूप से कोरोना टेस्टिंग की गई है जिसके कारण शुरुआत में आंकड़े ज्यादा दिखाई दे रहे हैं, परंतु शीघ्र ही हम इस बीमारी पर प्रभावी नियंत्रण एवं विजय पा लेंगे। हमने सभी संक्रमित क्षेत्रों को सील कर वहां व्यापक सर्वे करवाया है, जिससे कोई भी संक्रमित व्यक्ति टेस्ट से छूटे नहीं और संक्रमण पूरी तरह से रुक जाए। प्रदेश में कोरोन इलाज की भी सर्वोत्तम व्यवस्था की गई है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि हमने यह भी निर्णय लिया है कि जो

स्वास्थ्य कार्यकर्ता सीधे कोरोना मरीजों के इलाज में लगे हैं उन्हें 10 हज़ार की सेवा राशि हर माह दी जाए। कोरोना मरीजों की सेवा में लगे अन्य विभागों के कर्मचारी भी यदि संक्रमित होते हैं तो उन्हें भी 10 हज़ार सेवा राशि दी जाएगी।

नहीं थी कोरोना संबंधी व्यवस्थाएं

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि जब उन्होंने प्रदेश में मुख्यमंत्री के रूप में अपना कार्यभार ग्रहण किया तब प्रदेश में कोरोना टैस्टिंग आदि की कोई व्यवस्था नहीं थी। जबकि इंदौर यह बीमारी फरवरी-मार्च में ही फैल चुकी थी। हमने सारी व्यवस्थाएं बनाई, सिस्टम खड़ा किया । निरंतर अपनी टेस्टिंग क्षमता बढ़ाई। आज प्रदेश में 9 लैब टेस्टिंग का कार्य कर रहे हैं।

व्यापक सर्वे और टेस्टिंग

मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में हमने व्यापक सर्वे और टेस्टिंग के माध्यम से 405 संक्रमित क्षेत्रों की पहचानकर उन्हें पूर्ण रूप से सील कर दिया है। इन संक्रमित में क्षेत्रों में कुल 27 लाख 54 हज़ार व्यक्ति रह रहे हैं, जिनमें से 18 लाख 14 हज़ार व्यक्तियों का सर्वे कार्य पूर्ण कर लिया गया है। इन सभी क्षेत्रों में व्यापक रूप से कोरोना टैस्टिंग की गई है।

टेस्टिंग पर विशेष ध्यान

मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि हमने प्रदेश में कोरोना की टेस्टिंग पर विशेष ध्यान दिया है। प्रदेश में अभी तक 17650 कोरोंना टेस्ट के लिए सैंपल लिए गए हैं जिनमें 1307 पॉजिटिव पाए गए हैं। प्रभावित इलाकों में कांटेक्ट ट्रेसिंग एवं स्क्रीनिंग का कार्य गहनता से किया जा रहा है। टेस्टिंग सैंपल्स विशेष विमान से दिल्ली भी भेजे गए, जिससे कि त्वरित रिजल्ट मिल सके।

इंदौर में 5120 टेस्ट

शासन द्वारा इंदौर पर विशेष ध्यान दिया गया है। पूरे शहर को 11 जोन में बांटकर अधिकारियों को कार्य के लिए तैनात किया गया है। वहां 419 सर्वे टीम के माध्यम से 4 लाख व्यक्तियों का कोरोना संबंधी सर्वे किया जा चुका है। 65 मेडिकल मोबाइल टीम कार्य कर रही है। इंदौर में अभी तक 5120 सैंपल लिए गए हैं। वहां सैंपल लेने की दर 2000 व्यक्ति प्रति 10 लाख है, जो अच्छी है।

coronavirus
KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned