रात से ही निगम अफसर अलर्ट, जेडओ को फटकारा

सुबह से पानी निकासी के लिए जोन का अमला जुटा

By: हुसैन अली

Published: 07 Jul 2019, 08:45 AM IST

इंदौर.बारिश के चलते जहां रात से ही नगर निगम जोनल अफसर (जेडओ) अलर्ट हो गए, वहीं सुबह से अपने-अपने क्षेत्रों में पानी निकासी के लिए सक्रिय रहे। जिन वार्डों में जलजमाव की स्थिति बनी है, वहीं पर जोन का अमला पानी निकासी के लिए जुट गया है। इसके साथ ही काम में लापरवाही बरतने पर जेडओ को सेट पर फटकार भी लगाई जा रही है। शहर में गुरुवार से बारिश का दौर चल रहा है।

must read : नाश्ता करने आई फैशन डिजाइनर से अश्लील हरकत, हंगामे के बाद आर्मी तक पहुंची बात

शुक्रवार देर रात से तेज बारिश हो रही है, जो कि शाम को थोड़ी देर के लिए थम गई और रात 8 बजे से फिर रिमझिम शुरू हो गई। देर रात 2.30 बजे के आसपास तेज बारिश होना शुरू हुई, जो कि आज सुबह तक जारी है। बारिश के चलते आयुक्त आशीष सिंह ने निगम के तमाम अफसरों को अलर्ट कर दिया ताकि शहर में जलजमाव की स्थिति से निपटा जा सके। बारिश के चलते निगम के अफसर कल रात से ही अलर्ट हो गए और आज सुबह 6 बजे से मैदान पकड़ लिया। निगम के 19 जोन पर तैनात जेडओ के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग का अमला भी अपने-अपने क्षेत्र में जलजमाव की स्थिति से निपटने के लिए सक्रिय हो गया।

must read : विचारों को बदलो तो जीवन के सितारे बदल जाएंगे

जिन वार्डों की कॉलोनी-मोहल्लों सहित बस्तियों में पानी भराया, वहां पर निकासी के लिए जोन के अमले को लगाया गया। इधर, आयुक्त सिंह के निर्देश पर सुबह से ही अपर आयुक्त देवेंद्र सिंह सेट पर आ गए और सभी जेडओ से जलजमाव की स्थिति का पता लगाने के साथ निकासी की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। जलजमाव के चलते जहां पर भी निकासी के काम में लापरवाही बरती गई और जिन अफसरों ने मोबाइल फोन न उठाते हुए सेट पर भी जवाब नहीं दिया उनसे किसी भी तरह से संपर्क कर पहले जमकर फटकार लागाई और फिर मैदान पकडऩे के आदेश दिए। शहर में जलजवाम के चलते आयुक्त सिंह ने भी क्षेत्रवाइज लोकेशन लेकर अफसरों को निर्देशित किया। जेडओ के साथ-साथ जनकार्य, जलकार्य, ड्रेनेज और विद्युत विभाग के अफसर भी अलर्ट पर रहे। जहां-जहां पर पानी भराया है, वहां पर निकासी के लिए अफसर सुबह से ही जुट गए। बारिश थमने तक इन्हें अपने-अपने क्षेत्र में संसाधन के साथ रहने के आदेश आयुक्त सिंह ने दिए हैं। भारी बारिश के चलते आपदा होने पर बस्तियों के लोगों को आसपास धर्मशाला और सरकारी स्कूलों में शिफ्ट करने का भी कहा गया है।

बरसते पानी में सफाई

स्वच्छ भारत मिशन के अपर आयुक्त रजनीश कसेरा भी सुबह से फील्ड में रहे ताकि शहर की सफाई व्यवस्था न बिगड़े। बरसते पानी में सफाईकर्मियों ने सफाई की। पानी के साथ बहकर आने वाले कचरे की वजह से जलजमाव न हो इसके लिए सुबह से स्वास्थ्य विभाग का अमला जुट गया था।

हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned