10वीं-12वीं में जिले की टॉपर, फिर नहीं झेल पाई सीएस का तनाव और दे दी जान

10वीं-12वीं में जिले की टॉपर, फिर नहीं झेल पाई सीएस का तनाव और दे दी जान

Hussain Ali | Publish: May, 10 2019 10:52:45 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

10वीं-12वीं में जिले की टॉपर, फिर नहीं झेल पाई सीएस का तनाव और दे दी जान

इंदौर. अकसर ये सुनने में आता है कि किसी स्टूडेंट ने परीक्षा में फेल होने या कम नंबर आने पर आत्मघाती कदम उठा लिया है, लेकिन शहर में एक ऐसा मामला सामने आया जिसने सभी को स्तब्ध कर दिया। १०वीं और १२वीं में जिले में टॉप करने वाली एक छात्रा सीएस की तैयारी का दबाव नहीं झेल पाई और आत्महत्या कर ली।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जावरा कंपाउंड में एक होस्टल में रहने वाली विनीता ठाकुर (21) ने मंगलवार को जहर खा लिया। साथ रहने वाली बहन ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया, जहां बुधवार रात उसने दम तोड़ दिया। चाचा लक्ष्मण ने बताया कि परिवार महेश्वर का रहने वाला है। 10वीं-12वीं की परीक्षा में विनीता ने खरगोन में टॉप किया था। चार साल से इंदौर में रहकर सीएस की तैयारी कर रही थी। सीएस की परीक्षा के लिए पूरी तैयारी नहीं कर पाने से वह परेशान थी। उसने बहन और पिता से इस बारे में बात की थी। युवती के पास से सुसाइड नोट नहीं मिला। गुरुवार को एमवाय अस्पताल में पोस्टमॉर्टम हुआ। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी।

दसवीं की छात्रा ने लगाई फांसी

दूसरी ओर चंदन नगर थाना क्षेत्र में परिजन की अनुपस्थिति में नाबालिग छात्रा ने खुदकुशी कर ली। शाम के वक्त परिवार के सदस्य घर पहुंचे तब घटना का पता चला। टीआई राहुल शर्मा के मुताबिक 17 वर्षीय 10वीं की छात्रा ने गुरुवार को घर में फांसी लगा ली। मां जब नौकरी पर गई थी तब उसने यह कदम उठाया। शव को पीएम के लिए जिला हॉस्पिटल रखवाया है। खुदकुशी के कारण का पता नहीं चल सका। घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned