10 अक्टू को मनाया बर्थडे, फिर पॉश कॉलेज के छात्रा ने लगाई फांसी

amit mandloi

Publish: Oct, 13 2017 10:26:40 PM (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
10 अक्टू को मनाया बर्थडे, फिर पॉश कॉलेज के छात्रा ने लगाई फांसी

क्यों लगाई 17 साल की शिबानी ने फांसी, डे बोर्डिंग की छात्रा थी, घरवाले खरीदारी करने गए थे

इंदौर. पलासिया इलाके में कंस्ट्रक्शन कारोबारी की बेटी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वो डेली कॉलेज में १२वीं कक्षा में पढ़ाई कर रही थी। १० अक्टूबर को ही शिबानी ने अपना जन्मदिन भी मनाया था। उसका मोबाइल भी एक ड्रॉज में बंद मिला। आत्महत्या की वजह अभी सामने नहीं आई है।

पलासिया टीआई धैर्यशील येवले ने बताया, गुलमर्ग कॉलोनी निवासी शिबानी (१७) पिता दीपक चावला ने गुरुवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। शाम ८ बजे जब परिजन घर आए तो काफी देर तक उसने दरवाजा नहीं खोला। तब घर पर शिबानी के अलावा उसकी दादी ही थी। उसे फोन लगाया तो वो भी स्वीच ऑफ था। परिजन ने कारपेंटर को बुलाकर दरवाजा तोड़ा व अंदर गए। शिबानी के कमरे में जाने पर उसे पंखे से लटका देख परिजन घबरा गए। वो उसे तुरंत फंदे से उतार कर ग्रेटर कैलाश अस्पताल ले गए। जहां पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। अस्पताल से सूचने मिलने पर पलासिया पुलिस भी पहुंची। शव को एमवाय अस्पताल भिजवाया। शुक्रवार को उसका पोस्टमॉर्टम हुआ। येवले ने बताया, कमरे की जांच में कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। शिबानी का मोबाइल भी गायब था। जो बाद में एक ड्रॉज में बंद मिला। कमरे को सील कर दिया।

 

फोरेंसिक टीम ने कमरे की जांच की।

शिबानी डेली कॉलेज में १२वीं की छात्रा थी। वो डे बोर्डिंग में थी। दिनभर स्कूल में रहने के बाद रात में वो घर आ जाती थी, हालांकि गुरुवार को स्कूल नहीं गई थी। परिवार में कंस्ट्रक्शन कारोबारी पिता दीपक चावला, मां व बड़ी बहन जानवी है। जानवी औरंगाबाद से होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर रही है। तीन दिन पहले ही वो घर आई हैं। गुरुवार को वे लोग एक प्रदर्शनी देखने गए हुए थे।

 

शिबानी का गुस्सा काफी तेज था

परिवार ने अपने बयान में पुलिस को बताया है, शिबानी का गुस्सा काफी तेज था। १० अक्टूबर को ही उसने अपना जन्मदिन परिवार व दोस्तों के साथ धूमधाम से मनाया था। तब वो काफी खुश भी थी। ऐसा कभी नहीं लगा कि किसी बात को लेकर वो तनाव में है या ऐसा कोई कदम वो उठा सकती है। परिवार के लोग भी इस घटना से सकते में है। शिबानी के पिता का पलासिया इलाके में कैफे पेलेट भी है। इसके अलावा वो कंस्ट्रक्शन कारोबार से भी जुड़े हुए है। शिबानी के मोबाइल की भी पुलिस जांच करेगी। परिवार के लोगों व दोस्तों के बयान लेकर भी पुलिस आत्महत्या की वजह पता करने में जुटी है। पलासिया पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू की है।

 

Ad Block is Banned