scriptDAVV | ऑल इंडिया सर्वे में इस बार डीएवीवी के सौ फीसदी कॉलेज | Patrika News

ऑल इंडिया सर्वे में इस बार डीएवीवी के सौ फीसदी कॉलेज

सरकारी और निजी कॉलेजों से निरंतर संपर्क करते हुए एआइएसएचई में जानकारी भिजवाई गई है। अंतिम तिथि तक इसे भी अपलोड करने से सर्वे में डीएवीवी की सौ फीसदी भागीदारी हुई है।

इंदौर

Published: April 02, 2022 06:51:38 pm

इंदौर. देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी की सख्ती के कारण इस बार एआइएसएचई के तहत सभी संबद्ध कॉलेजों की जानकारी यूजीसी तक पहुंची है। अंतिम दिन तक रिपोर्ट अपलोड की गई। सबसे आखिर में होलकर साइंस कॉलेज की जानकारी सबमिट हुई। हालांकि, शहर की तीन निजी के साथ प्रदेश की 6 शासकीय यूनिवर्सिटी इसमें हिस्सा लेने से चूक गईं।
देश में उच्च शिक्षा की स्थिति की जानकारी जुटाने के लिए शिक्षा मंत्रालय हर साल ऑल इंडिया सर्वे ऑन हायर एजुकेशन के तहत जानकारी बुलाता है। प्रदर्शन के आधार पर संस्थानों की रैंङ्क्षकग जारी होती है। कई कॉलेज और यूनिवर्सिटी इस सर्वे में हिस्सा नहीं लेते, जिससे जीईआर (सकल नामांकन अनुपात) की सही जानकारी नहीं मिल पाती। प्रदेश में जीईआर सुधारने की दिशा में काम कर रही सरकार ने इस साल सभी शैक्षणिक संस्थानों के लिए सर्वे में जानकारी देना अनिवार्य किया था। अंतिम तिथि 28 मार्च तक देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी से संबद्ध होलकर कॉलेज को छोडक़र सभी की जानकारी अपलोड कर दी गई। तकनीकी समस्या के कारण होलकर कॉलेज की रिपोर्ट 29 मार्च को अपलोड हुई।
आरजीपीवी और एसजीएसआइटीएस भी पिछड़े
आरजीपीवी और अन्य यूनिवर्सिटी से संबद्ध 37 संस्थान इस बार भी हिस्सा नहीं ले सकें। एसजीएसआइटीएस, मालवांचल, मेडिकेप्स और ओरिएंटल यूनिवर्सिटी की जानकारी भी 28 मार्च तक यूजीसी नहीं पहुंची। भोपाल की राजीव गांधी, भोज ओपन, बरकतउल्ला, माखनलाल, नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी और जबलपुर की मेडिकल यूनिवर्सिटी भी पिछड़ गई हैं।
ऑल इंडिया सर्वे में इस बार डीएवीवी के सौ फीसदी कॉलेज
ऑल इंडिया सर्वे में इस बार डीएवीवी के सौ फीसदी कॉलेज

सभी संबद्ध सरकारी और निजी कॉलेजों से निरंतर संपर्क करते हुए एआइएसएचई में जानकारी भिजवाई गई है। होलकर कॉलेज की रिपोर्ट अपलोड होने में तकनीकी दिक्कत थी। अंतिम तिथि तक इसे भी अपलोड करने से सर्वे में डीएवीवी की सौ फीसदी भागीदारी हुई है।
- प्रो. राजीव दीक्षित, डीसीडीसी, डीएवीवी

रिजल्ट में गड़बड़ी की शिकायत
इंदौर. देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी का एमएड का रिजल्ट विवादों में घिरता रहा है। हाल ही में जारी हुए एमएड फाइनल सेमेस्टर के रिजल्ट को लेकर भी बखेड़ा खड़ा हो गया। कॉलेज संचालकों ने आरोप लगाया है कि बाहरी परीक्षकों ने जो अंक भेजे थे, उनमें हेर-फेर कर बदलाव किया गया है। कुलपति को शिकायत करते हुए पुराने अंक से रिजल्ट तैयार करने की मांग की गई है। एमएड कॉलेज संचालक गिरधर नागर, अभय पांडे, रामबाबू शर्मा ने कुलपति प्रो. रेणु जैन से मुलाकात कर शिकायत की है। उन्होंने आरोप लगाया कि छात्रों के रिजल्ट में वे अंक नहीं हैं, जो परीक्षकों ने दिए थे। कम अंक के कारण कई विद्यार्थी फेल बताए जा रहे हैं। हालांकि, यूनिवर्सिटी अधिकारियों ने अंक कम होने की वजह परीक्षा स्कीम को बताया है। परीक्षा नियंत्रक प्रो. अशेष तिवारी के अनुसार एमएड फाइनल में 100 अंक का लघुशोध और 50 अंक का वाइवा होना था। बाहरी परीक्षकों ने 100 अंक का ही वाइवा कर लिया। डीन व परीक्षा समिति से चर्चा के बाद अंकों में उस अनुपात में बदलाव किया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का पहला बयान, केंद्रीय मंत्री भी बोलेज्ञानवापी मामले को लेकर अखिलेश यादव ने हिंदू देवी-देवताओं पर की विवादित टिप्पणीअमरीकी शेयर बाजार धड़ाम, मंदी की आशंका के बीच दो साल की सबसे बड़ी गिरावटIPL 2022 LSG vs KKR : डिकॉक-राहुल के तूफान में उड़ा केकेआर, कोलकाता को रोमांचक मुकाबले में 2 रनों से हरायानोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाडिकॉक-राहुल ने IPL में रचा इतिहास, तोड़ डाला वार्नर और बेयरेस्टो का 4 साल पुराना रिकॉर्डकर्क सहित इन राशि वालों के लिए धन-कारोबार की दृष्टि से अनुकूल है आज का दिन, पेशेवर यात्राएं होंगी सफल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.