नेक ग्रेड ए विवि की हालत देखिए, नहीं करवा पा रहे समय पर परीक्षा

amit mandloi

Publish: Mar, 15 2018 04:15:10 AM (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
नेक ग्रेड ए विवि की हालत देखिए, नहीं करवा पा रहे समय पर परीक्षा

बीएचएमएस थर्ड प्रोफ के छात्रों ने यूनिवर्सिटी में जताई नाराजगी, कुलपति बोले कर्मचारियों की हड़ताल खत्म होने के बाद ही होगी परीक्षा

बार-बार आगे बढ़ रही परीक्षा, कब पूरा होगा कोर्स

इंदौर. बीएचएमएस थर्ड प्रोफ की परीक्षा लगातार तीसरी बार आगे बढऩे से नाराज छात्र-छात्राएं बुधवार को यूनिवर्सिटी पहुंचे। अफसरों से चर्चा में वे संतुष्ट नहीं हुए तो कुलपति से नाराजगी दर्ज कराई। छात्रों का कहना था कि सत्र पहले ही लेट चल रहा है। समझ नहीं आ रहा कि कोर्स पूरा कब होगा। कुलपति ने उन्हें स्पष्ट किया कि कर्मचारियों की हड़ताल खत्म होने के बाद ही वे परीक्षा का फैसला ले सकेंगे।

देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी ने बीएचएमएस थर्ड प्रोफ की परीक्षा ७ मार्च से रखी थी। लेकिन, कर्मचारियों की हड़ताल के कारण ऐनवक्त पर परीक्षा आगे बढ़ाते हुए १४ मार्च से रख दी गई। अब तक हड़ताल खत्म नहीं होने से तीसरी बार टाइम-टेबल में बदलाव हुआ। अब यह परीक्षा २४ मार्च से होना है। नाराज छात्र-छात्राएं बुधवार को परीक्षा नियंत्रक प्रो.अशेष तिवारी से मिले। उन्होंने परीक्षा के बारे में संतोषजनक जानकारी नहीं दी। इसके बाद छात्र कुलपति प्रो.नरेंद्र धाकड़ से मुलाकात को अड़ गए। सुरक्षाकर्मियों ने सिर्फ पांच छात्रों को कुलपति से मिलने की अनुमति दी। कुलपति ने छात्रों को हड़ताल खत्म होने का इंतजार करने की बात कही तो छात्र भडक़ गए। उन्होंने कहा, बार-बार परीक्षा आगे बढऩे से पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है। कुलपति ने छात्रों को नरम लहजे में बात करने को कहा मगर छात्र नहीं माने। छात्र लिखित में परीक्षा तिथि बताने पर अड़ गए। कुलपति ने भी उन्हें फटकारा और कहा कि जिद करने से हल नहीं निकल जाता। लंबी बहस के बाद छात्र हड़ताल खत्म होने तक इंतजार करने को राजी हुए।

हम समझ रहे हैं परेशानी

बीएचएमएस ही नहीं बल्कि कई और परीक्षाएं इन दिनों प्रभावित हुई है। हम छात्रों की परेशानी समझ रहे हैं, लेकिन कर्मचारियों की हड़ताल खत्म होने तक ये परीक्षाएं नहीं कराई जा सकती। उम्मीद कर रहे है कि दो-तीन दिन में हड़ताल का हल निकल जाएगा।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned