scriptDengue cases increasing rapidly | टूट गया 20 सालों का रिकॉर्ड, तेजी से बढ़ रहे डेंगू केस, अब रहना होगा ज्यादा सतर्क | Patrika News

टूट गया 20 सालों का रिकॉर्ड, तेजी से बढ़ रहे डेंगू केस, अब रहना होगा ज्यादा सतर्क


फिर डेंगू के 13 नए मरीज सामने आए हैं। इनमें 6 पुरुष और 7 महिला है, 6 बच्चे भी शामिल हैं....

इंदौर

Published: November 15, 2021 04:29:44 pm

इंदौर। शहर में डेंगू के नए मरीजों के मिलने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब तक 922 मरीज सामने आ चुके हैं, जो पिछले 20 वर्षों में सबसे बड़ा आंकड़ा है। सिर्फ निचली बस्तियों में ही मच्छरजनित रोगी ज्यादा मिलते हैं यह भ्रांति भी अब दूर हो चुकी है। इस बार डेंगू का प्रकोप निचली बस्तियों के साथ ही शहर के पॉश इलाकों में भी देखने को मिला है। विजयनगर, इंद्रपुरी कॉलोनी, महालक्ष्मी नगर, गणेशधाम कॉलोनी जैसे पॉश इलाकों में भी बड़ी संख्या में डेंगू संक्रमित मरीज मिले हैं। दिवाली के बाद से लेकर अब तक पिछले 10 दिनों में कुल 103 मरीज सामने आ चुके हैं। रविवार को फिर डेंगू के 13 नए मरीज सामने आए हैं। इनमें 6 पुरुष और 7 महिला है, 6 बच्चे भी शामिल हैं।

gettyimages-1218518415-170667a.jpg
Dengue

प्रदेश में जबलपुर के बाद सबसे ज्यादा डेंगू के मरीज इंदौर में सामने आए हैं। अब तक जहां शहर के निचले इलाकों से डेंगू के मरीज मिल रहे थे, वहीं अब पॉश इलाकों से भी रोजाना डेंगू के मरीज सामने आ रहे हैं। लार्वा सर्वे टीमों ने जब इन इलाकों में लार्वा ढूंढ़ने के लिए नजरें दौड़ाना शुरू की तो पता चला कि पॉश इलाकों के रहवासियों की लापरवाही की वजह से डेंगू का असर बढ़ रहा है। तमाम जागरूकता अभियानों और विज्ञापनों के बावजूद भी कई घरों के खाली वर्तन, कूलर और पौधों के पॉट में जमा पानी दिखाई दिया। जब टीमों ने जांच की तो इनमें डेंगू का लार्वा मिला। शहर में रोजाना 400 से 500 घरों में लार्वा जांच कर रही टीमों के लिए अब इन पॉश इलाकों से डेंगू का असर कम करना चुनौती बन गया है।

34 टीमें मिलकर ढूंढ रही लार्वा

शहर में स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की कुल 34 टीमें मिलकर लार्वा ढूंढने का काम कर रही है। इन टीमों में 14 टीमें स्वास्थ्य विभाग की हैं। रोजाना शहर के जिन इलाकों में = भी डेंगू के नए मरीज सामने आ रहे हैं, वहां पर लार्वा टीम पहुंचकर 1 सैंपलिंग कर रही हैं।

फॉगिंग बढ़ाने का भी नहीं असर

शहर के अलग-अलग इलाकों में नगर निगम द्वारा फॉगिंग की जा रही है, लेकिन उसका भी असर अब कम ही दिखाई दे रहा है। जितने भी इलाकों में फॉगिंग हो रही है, वहां से लगातार डेंगू के नए मरीज मिल रहे हैं। इससे साफ हैं कि डेंगू के मच्छरों पर धुएं का भी असर नहीं हो रहा है। ऐसा ही दिवाली को लेकर भी माना जा रहा था। एक अनुमान था कि दिवाली पर पटाखों के धुएं से भी मच्छर कम होंगे, लेकिन इसका असर देखने को नहीं मिला।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Coronavirus: स्वास्थ्य मंत्रालय इन 6 राज्यों में कोविड स्थिति पर चिंतित, यहां तेजी से फैल रहा संक्रमणGhana: विनाशकारी विस्फोट में 17 लोगों की मौत, 59 घायलभारत ने जानवरों के लिए विकसित किया पहला कोरोना वैक्सीन,अब शेर और तेंदुए पर ट्रायल की योजना50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीअखिलेश यादव के कई राज सिद्धार्थनाथ सिंह ने खोले, सुन कर चौंक जाएंगेबड़ी खबर- सरकार ने माफ किया पुराना बिल, अब महंगी होगी बिजलीCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतयूपी विधानसभा चुनाव 2022 के दूसरे चरण की 55 विधानसभा सीटों के लिए आज से होगा नामांकन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.