भाजपा सरकार के खिलाफ वीडियो स्टिंग जारी, दिग्विजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किए बड़े खुलासे, देखें VIDEO

भाजपा सरकार के खिलाफ वीडियो स्टिंग जारी, दिग्विजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किए बड़े खुलासे, देखें VIDEO

Arjun Richhariya | Publish: Apr, 17 2018 05:19:04 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2018 05:29:50 PM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

भाजपा सरकार के खिलाफ वीडियो स्टिंग जारी, दिग्विजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किए बड़े खुलासे

इंदौर. 3200 किमी की पैदल नर्मदा यात्रा से लौटे दिग्विजय सिंह ने मध्यप्रदेश की विधानसभा चुनाव से ठीक पहले सक्रिय राजनीति में अपनी नई पारी का इंदौर से आगाज कर दिया। इंदौर के रेडिसन होटल में हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिग्विजय ने नर्मदा यात्रा की बातों से शुरुआत की और फिर धीरे धीरे वे राजनीति की बातों की तरफ मुड़े।

इस दौरान उन्होंने प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक के लिए कई बड़े खुलासे किए। उन्होंने इस दौरान कई वीडियो भी जारी किए जिसमें प्रदेश के कई हिस्सों में साफ तौर पर अवैध खनन होते हुए दिखाई दे रहा है।

मंच पर दिग्विजय के साथ वरिष्ठ कांग्रेस नेता महेश जोशी, रामेश्वर नीखरा और उनकी पत्नी अमृता सिंह भी मौजूद रहीं। इस दौरान दिग्विजय ने एक डॉक्यूमेंट्री भी जारी की।

 

किस विषय पर क्या बोले पूर्व मुख्यमंत्री

खनन
सरदार सरोवर के कारण नर्मदा नदी का अरब सागर की ओर 80 किलोमीटर का हिस्सा खारा हो चुका है। प्रदेश सरकार और प्रशासन मिलकर नर्मदा को पूरी तरह से बर्बाद करने में लगे हैं।

मशीनों से लगातार रेत खनन अवैध रूप से किया जाता रहा। हमने जबलपुर में आरटीआई लगाई 8 स्थानों के बारे में जानकारी मिली लेकिन वास्तव में वहां 48 स्थानों पर ये अवैध खनन किया जा रहा था।

हर साल लगभग 10 हजार केस सामने आते रहे अवैध खनन के 54 करोड़ का अर्थदंड घोषित था,8 करोड़ दंड लिया गया लेकिन 27 लाख रूपये ही सामने आया। पैसा कहां गया ?

सरकार की लापरवाही से कई लोग मारे गए
नरसिंहपुर में 18 लोग नर्मदा परिक्रमा के दौरान मारे गए क्योंकि लाइफ जैकेट की कोई व्यवस्था सरकार करती नहीं है। इस ओर गुजरात सरकार को ध्यान देना चाहिए। सवा 6 करोड़ में से 6 लाख पौधे भी नहीं मिलेंगे नर्मदा किनारे,पर इस पर कुछ बोल नहीं सकते। गिनती के 7 हजार पौधे भी नहीं लगे होंगे।

नर्मदा यात्रा
दिग्विजय सिंह ने कहा नर्मदा परीक्षा लेती है। जिसमें 10 से 15 दिन भारी कष्टदायी रहती है। इस समय में जो लोग पैदल चल लेते हैं, तो समझो यात्रा पूरी, वरना सीधे घर जाना पड़ता है। लोगों ने मुझसे कहा बस और अन्य वाहनों से पदयात्रा कर लो, लेकिन मैंने मना कर दिया कि परिक्रमा तो पैदल ही होती है। बस और हैलिकॉप्टर से नहीं। सबसे पुरानी नदी है नर्मदा। जिसकी परिक्रमा भी आसानी से की जा सकती है। हर व्यक्ति का अलग-अलग अनुभव होता है लेकिन सभी को एक बार यह यात्रा जरूर करना चाहिए।

ज्योतिरादित्य सिंधिया
प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव और उसमें सीएम चेहरे की बात पर दिग्विजय बोले की यह सब राहुल गांधी तय करेंगे। जब उनसे ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि चेहरा कोई भी हो लेकिन सरकार इस बार कांग्रेस की ही आनी चाहिए क्योंकि प्रदेश की जनता में भारी रोष है।

Ad Block is Banned