सावन में भूलकर भी न करें ये 6 काम, शिवजी हो जाएंगे गुस्सा, ऐसी आराधना से होंगे खुश, देंगे वरदान

सावन में भूलकर भी न करें ये 6 काम, शिवजी हो जाएंगे गुस्सा, ऐसी आराधना से होंगे खुश, देंगे वरदान

Reena Sharma | Updated: 17 Jul 2019, 09:45:08 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

आज से शुरू हो रहा सावन मास, भोलेनाथ जी का करें श्रृध्दा भक्ति से पूजन, होंगे प्रसन्न

इंदौर. सावन में शिव पूजन करने से भगवान जल्दी प्रसन्न होते है। भगवान भोलेनाथ से सावन के महिने में जो चाहे वो मांग सकते है और भगवान आपकी हर इच्छा को पूरा भी करते है। मनचाहा वर पाना हो या फिर हर वो इच्छा जो कई दिनों से पूरी नहीं हो रही है वह भी भगवान भोलेनाथ का पूजन करने से पूर्ण हो जाती है। कहा जाता है कि शिवजी को प्रसन्न करने के लिए सावन माह में उनका विशेष पूजन करना चाहिए लेकिन कुछ काम ऐसे भी है जिन्हें करने से आपके कई काम बिगड़ भी सकते हैं। शंकर जी को खुश करने के उपाय करेंगे तो मनचाहा वरदान पा सकते हैं।

 

indore

ऐसे करें अभिषेक, शिव जी सुनेंगे आपकी हर पुकार:-

1) सावन में रोज 21 बिल्वपत्रों पर चंदन से 'ऊं नम: शिवाय' लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं, इस एक उपाय से आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी होंगी।

2) अगर घर में किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो सावन में रोज सुबह घर में गोमूत्र का छिडक़ाव करने के साथ ही गुग्गुल धूप जलाएं।

3) विवाह में आ रही अड़चन दूर करने के लिए सावन में रोज शिवलिंग पर केसर मिला दूध चढ़ाएं, इससे विवाह के योग जल्दी बनेंगे।

4) सावन में रोज नंदी (बैल) को हरा चारा खिलाएं, इससे जीवन में सुख-समृद्धि आएगी और मन प्रसन्न रहेगा।

5) इस माह गरीबों को भोजन कराने से आपके घर में कभी अन्न की कमी नहीं होगी और पितरों को भी शांति मिलेगी।

indore

6) सावन में रोज सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि से निपटकर मंदिर जाएं और भगवान शिव का जल से अभिषेक करने के साथ ही काले तिल अर्पण करें। इसके बाद मंदिर में कुछ देर बैठकर मन ही मन में 'ऊं नम: शिवाय' मंत्र का जाप करें। ऐस करने से मन को शांति होगी।

7) सावन में किसी नदी या तालाब जाकर आटे की गोलियां मछलियों को खिलाएं और मन में भगवान शिव का ध्यान करते रहें। यह धन प्राप्ति का सबसे आसान उपाय है।

8) आमदनी बढ़ाने के लिए सावन के महीने में किसी भी दिन घर में पारद शिवलिंग की स्थापना करें और उसकी यथा विधि पूजन करें। इस दौरान इस मंत्र का 108 बार जाप करें- ऐं ह्रीं श्रीं ऊं नम: शिवाय श्रीं ह्रीं ऐं

indore

9) संतान प्राप्ति के लिए सावन में किसी भी दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करके भगवान शिव का पूजन करें और इसके बाद गेहूं के आटे से 11 शिवलिंग बनाएं और प्रत्येक शिवलिंग का शिव महिम्न स्त्रोत से 11 बार जलाभिषेक करें।

10) सावन में किसी सोमवार को पानी में दूध व काले तिल डालकर शिवलिंग का अभिषेक करने से बीमारियां दूर होती हैं। अभिषेक के लिए तांबे के बर्तन को छोडक़र किसी भी धातु का उपयोग किया जा सकता है।

सावन में ये काम बिल्कुल भी न करें, वरना शंकर जी हो जाएंगे नाराज:-

 

indore

ऩॉनवेज त्याग दें:-

यह तो आपने अक्सर सुना होगा कि कई लोग सावन में नॉनवेज को छूते तक नहीं है। ऐसा कहा जाता है कि इस महीने में नॉनवेज खाने से मन अशांत रहता है और कोई भी काम ठीक से नहीं होता है।

अपने से कमजोर लोगों न सताएं:-

गरीब, वृद्ध, दुर्बल और जानवरों को न सताएं। इससे शिव जी को कष्ट पहुंचता है और उन्हें गुस्सा आता है। साथ ही शिवभक्तों का अपमान न करें।

indore

पैकेट वाला दूध अर्पित करने से करें परहेज:-

ज्योतिष शास्त्र में दूध को चंद्र ग्रह से संबंधित माना गया है क्योंकि दोनों की प्रकृति शीतलता प्रदान करने वाली होती है। चंद्र ग्रह से संबंधित समस्त दोषों का निवारण करने के लिए सोमवार को महादेव पर दूध अर्पित करें। समस्त मनोकामनाओं को पूर्ण करने के लिए शिवलिंग पर गाय का कच्चा दूध अर्पित करें। ताजा दूध ही प्रयोग में लाएं, डिब्बा बंद अथवा पैकेट का दूध अर्पित न करें।

परिवार में झगड़े न करें:-

ऐसा कहा जाता है कि भगवान वहीं बसते हैं जहां प्यार होता है। यह महीना वैसे तो शिव और गौरी के परिवार को समर्पित है। इसलिए इस माह में परिवार में किसी भी तरह का झगड़ा करने से बचना चाहिए। इसके अलावा अपने जीवनसाथी को बुरा न बोलें। इस शिव जी नाराज हो जाते है। यह महीना दांम्पत्य जीवन में खुशियां लाता है।

 

indore

दूध और दूध से बनी चीजों का इस्तेमाल ने करें:-

ऐसा माना जाता है कि सावन दूध, दही, छाछ आदि का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। कई लोग तो सावन में दही और छाछ की बनी कढ़ी भी त्याग देते है। ऐसा इसलिए क्योंकि भोलेनाथ तो भक्तों की रक्षा के लिए विषपान भी कर चुके हैं, इसलिए सावन में जो चीज आपके लिए हानिकारक है। यानी दूध, उसे भगवान शिव पर चढ़ाया जाता है। सावन में शिव का दूध से अभिषेक करने से शिव खुश होते हैं।

सावन में बैंगन न खाएं:-

सावन के मौसम में बैंगन खाने से बचना चाहिए। इससे भी भगवान भोलेनाथ जी नाराज हो जाते है। इन दिनों प्याज, लहसून, मांस, मदिरा और अन्य ऐसे किसी भी नशीले पदार्थ का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned