बाज की पकड़ से इंस्पायर्ड डिवाइस यूज कर रही है अमरीकन एयरफोर्स

Arjun Richhariya

Publish: Oct, 12 2017 05:24:55 (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
बाज की पकड़ से इंस्पायर्ड डिवाइस यूज कर रही है अमरीकन एयरफोर्स

नैनो टेक्नोलॉजी पर आयोजित सेमिनार में आईएनएसटी के डायरेक्टर डॉ. गांगुली ने कहा

इंदौर.नैनो टेक्नोलॉजी के रिसर्च के मामले में इंडिया वल्र्ड में थर्ड पोजीशन पर है। वही पैटेंट्स के क्षेत्र में १०वीं और पैटेंट से कमाई में १८वें नंबर है। इसका मतलब है कि हम नैनो टेक्नोलॉजी फील्ड में रिसर्च में तो काफी आगे पर उनका पैटेंट कराने और पैटेंट इनकम प्राप्त करने में हम और पीछे हैं। हमें पैटेंट कराने और उनके कॉमर्सलाइजेशन पर अधिक फोकस करने की जरूरत है। यह कहना है आईएनएसटी मोहाली के डायरेक्टर डॉ. अशोक गांगुली का। वह बुधवार को डीएवीवी के स्कूल ऑफ इंस्ट्रूमेंटेशन की ओर से नैनो टेक्नोलॉजी विषय पर आयोजित सेमिनार को संबोधित कर रहे थे। 'फॉरमेशन ऑफ नैनो मटेरियल्स एंड इट्स यूजेसÓ विषय पर डॉ. गांगुली ने कहा कि नेचर ने जो हमें गिफ्ट्स दिए हैं हमें उनकी डीप स्टडी करनी चाहिए। इससे कई एडवांस्ड टेक्नोलॉजी को तैयार किया जा सकता है।

गंदी नहीं होती मछली की स्किन
डॉ. गांगुली ने बताया कि अमरीका में बाज के पंजों और उसकी पकड़ को एनालाइज कर नैनो टेक्निक का इस्तेमाल करते हुए ऐसी डिवाइस तैयार की है जिसकी पकड़ बेहद मजबूत है। अब उस डिवाइस का इस्तेमाल अमरीकन एयरफोर्स कर रही है। इसी प्रकार मछलियों की स्कीन से ऐसी फिल्म तैयार की गई है तो कभी गंदी नहीं होती है। इस तरह के एप्रोज से हम भी कई इनोवेटिव टेक्नोलॉजी तैयार कर सकते हैं।

इन्होंने भी किया संबोधित
मैड्रिड यूनिवर्सिटी स्पेन से आए साइंटिस्ट डॉ. रोडोल्फ क्यूरनों ने 'नॉन स्केल पैटर्न फ ॉरमेशनÓ विषय पर रिसर्च पेपर पेश किया। स्पेन के ही साइंटिस्ट वैज्ञानिक डॉ. जेविअर मुनोज ग्रेशिया ने 'थ्योरी ऑफ ऑयन इंड्यूस्ड सॉलिड फ्लो' विषय पर चर्चा की। द्वितीय तकनीकी सत्र में आईआईटी खडग़पुर के डॉ. एसके श्रीवास्तव, जीजी एसआई यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली के डॉ. एस महापात्रा, टीआईएफ.आर मुंबई के डॉ. लोकेश ने नैनो तकनीक के विभिन्न आयामों पर चर्चा की। इस सत्र के अंतिम वक्ता फ्र ांस के वैज्ञानिक डॉ. एन चेरकाशिन ने संबोधित किया। इसी के साथ लगभग 45 पोस्टर प्रस्तुतियां भी दी गई। इस अवसर पर कार्यवाहक कुलपति डॉ. अनिल कुमार, डॉ. दिनाकर कांजीलाल, डॉ. अंबुज त्रिपाठी, डॉ. तापस गांगुली और डॉ. डीके अवस्थी भी उपस्थित थे। विभागाध्यक्ष डॉ. रत्नेश गुप्ता ने अतिथियों का स्वागत किया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned