नशे में धुत पुलिसवालों ने बाप-बेटों को बेरहमी से पीटा, हालत गंभीर

नशे में धुत पुलिसवालों ने बाप-बेटों को बेरहमी से पीटा, हालत गंभीर

इंदौर . आजाद नगर थाना क्षेत्र में अलसुबह एक युवक के साथ पुलिस ने घर मे घुस कर मारपीट की। युवक को बचाने उसके माता-पिता और दादी सामने आए तो पुलिस उन्हें भी थाने ले आई और उनके सामने ही युवक के साथ मारपीट की।

थाने पर हुई मारपीट से जब युवक बेहोश हो गया तो पुलिस ने उसे परिजन को सौंपते हुए कहा कि अब तुम इसका इलाज कराओ। युवक पेशे से ड्राइवर है और वो सुबह गाड़ी का माल खाली कर घर जा रहा था। पुलिस को शक था कि वो चोर है।

अशोक पिता शंकर वर्मा ने बताया कि उसका बेटा अजय बड़ी लोडिंग गाड़ी चलाता है। कल शाम वो किसी दुकानदार के 24 कूलर गाड़ी से नलखेड़ा छोडऩे गया था। वहां से लौटते वक्त गाड़ी पंक्चर होने से वो घर पहुंचने में लेट हो गया।

आज सुबह चार बजे मूसाखेड़ी चौराहे से घर जा रहा था तभी उसको दो पुलिस वालों ने आवाज दी। पुलिस वाले सिविल ड्रेस में थे तो अजय उन्हें पहचान नहीं पाया और तेज रफ्तार से भगाने लगा। पुलिस ने आगे जाकर उसकी गाड़ी रोक ते हुए उसके साथ मारपीट की।

पुलिस को शक था कि वो चोर है और गाड़ी में जो दो कूलर हैं वो चोरी के हैं। युवक ने उन्हें बताया कि वो एक ड्राइवर है कल शाम वो नलखेड़ा में कूलर की डिलिवरी देने गया था उसमें से दो कूलर टूटे होने के कारण व्यापारी ने वो वापस लौटा दिए हैं। इन कूलरों का उसके पास बिल भी है। पुलिस ने जब बिल मांगा तो अजय उन्हें घर लेकर गया और बिल दिखाया।

बिल 24 कूलर का था और उनमें से जो दो कुलर लेकर आया उनका बिल नहीं होने के चलते पुलिस वाले उसके घर के बाहर ही मारपीट करने लगे। अजय की पिटाई होती देख जब उसके परिवार वाले बचाने आए तो पुलिस ने उनके साथ भी मारपीट की और सभी को थाने लेकर आ गई।

वहां पर भी उसके साथ मारपीट की। थाने में हुई मारपीट से अजय बेहोश हो गया। अजय को बेहोश देख वहां पर मौजूद पुलिस अधिकारी हरकत में आए और अजय को परिजन को सौंपते हुए अस्पताल भेज दिया। एमवाय अस्पताल में अजय का इलाज चल रहा है। अशोक के परिजनों का आरोप है कि जा पुलिसकर्मी घर पर आए थे वो नशे में धुत थे। अब वो मामले की शिकायत वरिष्ठ पुलिस अधीकारियों से करेंगे।

बेटमा में काम आई पुलिस की सतर्कता, नहीं हुआ विवाद
इंदौर . बेटमा में दो दिन पहले हुए विवाद के बाद कल फिर माहौल तनावपूर्ण हो गया था। बताया जाता है कि हिंदू संगठन का कल कार्यक्रम था। पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाइश देकर माहौल बिगडऩे से बचा लिया है। हालांकि वहां फोर्स अब भी तैनात है।

पुलिस के अनुसार ग्राम ललेडी में डीजे बजाने को लेकर दो गुटों में विवाद हो गया था, इस दौरान मारपीट भी हो गई थी। दोनों गुट अलग-अलग वर्ग के होने से स्थिति तनावपूर्ण हो गई थी। पुलिस ने दोनों पक्षों को शांत किया। कल वहां पर हिंदू संगठन का कार्यक्रम था, इसके चलते फिर विवाद की स्थिति बन गई थी।

हालांकि संगठन से जुड़े लोगों का कहना था कि उनका कार्यक्रम पूर्व नियोजित था, इसके चलते वह यह कार्यकम करेंगे। वहीं दूसरा पक्ष गांव में रैली निकाले जाने का विरोध कर रहा था। इस बात को लेकर तवानपूर्ण स्थिति बन गई थी। पुलिस बल मौके पर पहुंच गया था। अफसरों ने दोनों पक्ष के लोगों से बात की, इसके बाद तय हुआ कि कार्यक्रम गांव के बाहरी हिस्से में किया जाएगा।

कार्यक्रम स्थल और गांव के बीच पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया था। पुलिस ने गांव में मार्च भी किया ताकि उपद्रव न हो सके। कार्यक्रम खत्म होने के बाद तक पुलिस फोर्स तैनात था। बाद में कुछ फोर्स हटा लिया गया, लेकिन थाने का स्टाफ अब भी तैनात है।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned