सैनिटाइजर के कारण पहले नातिन फिर नानी और अब नाना की भी मौत

हाथों में सैनिटाइजर लगाकर नातिन को खाना खिला रहे बुजुर्ग पति-पत्नी आये आग की चपेट में, इलाज के दौरान अस्पताल में तीनों की मौत ।

By: Hitendra Sharma

Published: 26 Dec 2020, 12:49 PM IST

इंदौर. कोरोना से बचने के लिए हाथ में लगाए सैनिटाइजर से आग भभकने के कारण पूरा परिवार ही बिखर गया। बताया जाता है कि आग में नाना-नानी और सात साल की नातिन जल गई थी। पहले नातिन, फिर नानी और अब नाना ने भी दम तोड़ दिया। कल रात को नाना की भी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई।

पुलिस के अनुसार राजू पिता फकीरचंद वर्मा निवासी शनि मंदिर के पास की कल रात को एमवाय अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। पिछले दिनों उनके घर में आग लग गई थी। इसमें राजू वर्मा और उनकी पत्नी मीना वर्मा और नातिन रिद्धिका जल गईं थीं। राजू घर में आए तो हाथों पर सैनिटाइजर लगा लिया था।

घर पर आई सात साल की नातिन खाना खा रही था। नानी मीना खाना बना रही थीं। इसी दौरान रिद्धिका ने रोटी मांगी, तो सैनिटाइजर लगे हाथों से नाना चूल्हे से रोटी उठाकर कर देने लगे। चूल्हे के पास आते ही उनके हाथ में आग लग गई। उन्होंने आग बुझाने की कोशिश की इसी दौरान मीना भी आग की चपेट में आ गईं। वो दोनों आग से बच पाते, इससे पहले ही नातिन रिद्धिका के कपड़ों में भी आग लग गई। तीनों को गंभीर हालत में एमएच अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां पर पहले रिद्धिका, फिर उसकी नानी मीना वर्मा और अब नाना की मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है और जांच कर रही है।

Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned