इन उपभोक्ताओं के बिजली बिल का रंग हो गया है पीला, चेक कीजिए अपना बिल और राशि

इन उपभोक्ताओं के बिजली बिल का रंग हो गया है पीला, चेक कीजिए अपना बिल और राशि
इन उपभोक्ताओं के बिजली बिल का रंग हो गया है पीला, चेक कीजिए अपना बिल और राशि

Hussain Ali | Updated: 16 Sep 2019, 02:17:37 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

- 100 यूनिट से कम खपत वालों की पहचान के लिए बिजली कंपनी बदला है कलर
- आदेश के बावजूद कम नहीं हो रही बिल की राशि

इंदौर. राज्य सरकार ( mp government ) ने एक रुपए यूनिट बिजली कर दी है। इसका लाभ उन लोगों को मिलेगा, जो हर माह 150 यूनिट से कम बिजली जलाते हैं। ऐसे उपभोक्ताओं के बिल ( electricity bill ) का रंग भी पीला कर दिया गया है। पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी ने सरकार की योजना का लाभ देना शुरू कर दिया है। इसके चलते बिजली बिल का कलर पीला हो गया पर राशि कम नहीं हुई है, क्योंकि 100 से कम यूनिट होने के बावजूद लोगों को अधिक राशि के बिल आ रहे हैं। ऐसे में उपभोक्ता बिजली वितरण कंपनी का गणित समझ नहीं पा रहे हैं।

इन उपभोक्ताओं के बिजली बिल का रंग हो गया है पीला, चेक कीजिए अपना बिल और राशि

राज्य सरकार की इंदिरा गृह ज्योति योजना का लाभ अब 150 यूनिट तक बिजली जलाने वाले उपभोक्ताओं को भी मिलेगा। योजना के क्रियान्वयन को लेकर पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी ने अपने अंतर्गत आने वाले इंदौर-उज्जैन संभाग के 15 जिलों में आदेश जारी कर दिया है। इसके चलते अब 30 दिन में 150 यूनिट खपत वाले किसी भी उपभोक्ता को पहले 100 यूनिट बिजली मात्र 100 रुपए में दी जाएगी। इससे ज्यादा यूनिट होने पर अंतर राशि 7 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से ली जाएगी। अन्य चार्ज मप्र नियामक आयोग के अनुसार देय होंगे।

must read : नदी के तेज बहाव में बह गया बेटा, दो दिन तक नदी की ओर टकटकी लगाकर देखती रही मां, नहीं मिला बेटा

अभी 150 यूनिट तक का बिजली बिल 800 से 900 रुपए तक होता है, लेकिन इंदिरा ज्योति योजना में आने से आधा यानी 450 से 500 रुपए तक हो जाएगा। बिजली वितरण कंपनी ने राज्य सरकार के आदेश का पालन करते हुए योजना को लागू तो कर दिया है। इसके चलते जिन उपभोक्ताओं के यहां 100 यूनिट से कम बिजली जलती है, उनके बिल का कलर भी बदलकर पीला कर दिया गया है। इससे पहचान हो सकें कि इनके यहां खपत 100 यूनिट के अंदर है। बिजली वितरण कंपनी ने 100 यूनिट से कम खपत वाले उपभोक्ताओं को सितंबर के जो बिल जारी किए हैं उनका कलर बदलकर पीला कर दिया पर राशि कम नहीं हुई है।

इन उपभोक्ताओं के बिजली बिल का रंग हो गया है पीला, चेक कीजिए अपना बिल और राशि

ऐसे समझिए पूरा मामला

उदाहरण के लिए जिस उपभोक्ता के यहां 64 यूनिट बिजली की खपत हुई है, उसे तकरीबन 400 रुपए का बिल जारी किया गया है। ऐसे में अब उपभोक्ता कंपनी का गणित समझ ही नहीं पा रहे हैं। साथ ही कंपनी की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर रहे हैं, क्योंकि सरकार की योजना का लाभ सितंबर से ही मिलना था पर कंपनी ने दिया नहीं। कम खपत वाले उपभोक्ताओं को एक रुपए यूनिट बिजली का लाभ नहीं मिलने पर जब कंपनी के जिम्मेदार अफसरों से सवाल-जवाब किए गए तो उनका कहना है कि योजना में सितंबर की स्थिति में उपभोक्ताओं को शामिल किया जा रहा है।

must read : 40 मिनट में एमपीसीए के संविधान में 129 संशोधन, अब बिना सुप्रीम कोर्ट की इजाजत के नहीं होगा संशोधन

जिन उपभोक्ताओं को पिछले रीडिंग चक्र से बिल जारी हुए हैं उन्हें अगले रीडिंग चक्र से योजना में शामिल किया जाएगा। अधिक राशि कैसे आ रही है इसकी जांच की जाएगी। कम खपत वाले हर उपभोक्ता को योजना का लाभ दिया जाएगा। मालूम हो कि इस योजना से करीब 28 लाख उपभोक्ता लाभान्वित होंगे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned