बिजली कंपनी का 1912 नंबर 19 घंटे रहा बंद, लोगों को हुई ये परेशानी

बिजली कंपनी का 1912 नंबर 19 घंटे रहा बंद, लोगों को हुई ये परेशानी

Reena Sharma | Publish: May, 23 2019 11:19:10 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

50 से अधिक लाइन का कॉल सेंटर बनाकर 1912 नंबर दिया।

इंदौर. बिजली कंपनी की 1912 कॉल सेंटर सेवा 19 घंटे तक बंद रहने से मंगलवार को जनता खासी परेशान हुई। बिजली गुल होने पर शिकायत दर्ज नहीं होने के साथ ही कोई जानकारी भी नहीं मिल पाई। बुधवार सुबह 9 बजे सिस्टम सुधर सका।

बिजली कंपनी ने उपभोक्ताओं को सुविधाएं देने के लिए 50 से अधिक लाइन का कॉल सेंटर बनाकर 1912 नंबर दिया। इसमें आईवीआरएस सिस्टम के तहत शिकायतें दर्ज करने की बात कही गई। मंगलवार को दोपहर 2 बजे अचानक सर्वर फैल होने से इसकी पूरी व्यवस्था ही ठप हो गई। लगभग 19 घंटे तक सर्वर फैल रहा और एक भी शिकायत दर्ज नहीं हो पाई। उपभोक्ता बिजली गुल होने पर गर्मी में तपते रहे। अधिकारी तकनीकी गड़बड़ी बताकर टालते रहे। जोन पर भी फोन लगातार व्यस्त मिले। बिजली कंपनी के आईटी प्रभारी सुधीर आचार्य का कहना है कि सॉफ्टवेयर में कभी गड़बड़ होने की वजह से परेशानी आ जाती है। जनता को कोई ज्यादा दिक्कत नहीं हुई है।

मीटरों पर लगेंगे क्यूआर कोड

बिजली कंपनी ने स्मार्ट तरीके से बिलिंग सुधार एवं रीडरों का काम और व्यवस्थित व पारदर्शी बनाने की योजना पर काम शुरू किया है। मीटरों के सर्वे के साथ अब हर मीटर पर कंपनी क्यूआर कोड लगाएगी। इसमें बहुत मामूली खर्च आएगा। कंपनी क्षेत्र के 450 जोन व वितरण केंद्र से जुड़े 43 लाख उपभोक्ताओं के यहां क्यूआर कोड के स्टीकर लगाए जाएंगे। इन पर संबंधित उपभोक्ताओं की जानकारी रहेगी। स्टीकर लगने के बाद तय हो जाएगा कि हर रीडर हर माह प्रत्येक घर तक पहुंच रहा है या नहीं। इससे बिलिंग व्यवस्था और सुधरेगी। बिल ज्यादा-कम आने की शिकायत भी हल हो जाएगी। मनोज झंवर ने बताया, शत प्रतिशत मीटरीकरण, सर्वे एवं क्यूआर कोड से व्यवस्था इसी साल अंत तक बहुत सुधरेगी। इससे उपभोक्ता और ज्यादा संतुष्टि अनुभव करेगा व समय पर सकारात्मक भाव से बिल राशि चुकाने को स्वमेव प्रेरित होगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned