गैलरी से फेंका पानी हाई टेंशन से टकराया, गई इंजीनियर की जान

भोपाल से डिग्री लेने आया था

इंदौर. गैलरी में खड़े होकर पानी पी रहे इंजीनियर ने बचा हुआ पानी बाहर फेंक दिया। अनायास ही पानी की धार हाई टेंशन लाइन से छू गई। एक पल में करंट पीछे की तरफ गिलास तक पहुंचा और इंजीनियर चपेट में आ गया। अस्पताल में उसे मृत घोषित कर दिया गया।
टीआई योगेश सिंह तोमर के मुताबिक, इंजीनियर आनंद (25) पिता गामा सिंह निवासी खरगोन देर रात गुमाश्ता नगर स्थित बहुमंजिला मकान में हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गया। आनंद छत पर बनी रेलिंग से सटकर गिलास से पानी फेंक रहा था। पानी समीप से गुजर रही हाईटेंशन लाइन के संपकज़् में आ गया। तेज आवाज के साथ स्पाकज़् होते ही आनंद को जोरदार झटका लगा। दोस्त उसे एमवायएच लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। दोस्तों ने बताया, उसने निजी कॉलेज से बीई की पढ़ाई की थी। वह भोपाल के कॉलेज में प्रोफेसर था। यहां वह डिग्री लेने आया था। उसके पिता कोतवाली खरगोन में आरक्षक है।

लगातार बढ़ रहे ऐेसे मामले
शहर में हाईटेंशन लाइन की वजह से जान जाने का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। यह पहली बार नहीं है जब किसी पॉश कॉलोनी में भी हाईटेंशन लाइन की वजह से किसी की जान गई है। शहर के कई हिस्सों में हाईटेंशन लाइन लोगों की जान से खिलवाड़ कर रही है। पॉश कॉलोनियों के बीच से भी हाईटेंशन लाइन के तार गुजर रहे हैं और इनका समाधान निकालने में प्रशान भी लाचार है। कई बार इसकी शिकायतों के बाद भी अभी तक प्रशासन किसी ठोस निर्णय पर नहीं पहुंचा है।

बिल्डरों का दोष मानकर बच जाते हैं अधिकारी
हाईटेंशन लाइन के केस में अधिकारी बिल्डरों को दोषी बताकर अपनी जिम्मेदारी से बचते रहे हैं। कॉलोनी डेवलपमेंट के लिए बनाए गए नियमों में हाईटेंशन लाइन से दूरी और कुछ सुरक्षा पहलू गिनाए गए हैं जिन्हें बिल्डर सामान्यत: नजरअंदाज कर देते हंै। कॉलोनी के डेवलपमेंट के समय अधिकारियों की लापरवाही की वजह से यह हाईटेंशन लाइन घरों के पास ही रह जाती है। कुछ केस ऐसे भी हैं जिनमें अवैध कॉलोनियों में से घर बनने के बाद भी हाईटेंशन लाइन निकाली गई है और तर्क दिया गया कि यह कॉलोनी तो अवैध है। इन सभी तर्कों और लापरवाही के बीच जान आखिर में आम आदमी की ही जा रही है। यह नुकसान न तो बिल्डर उठा रहा है न ही प्रशासन।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned