इंदौर : डीएवीवी में नाइजीरियन स्कॉलर से छेड़छाड़, प्रोफेसर के बंगले में घुस बचाई जान

भंवरकुआ थाना क्षेत्र का मामला, पीछे कर रहे आरोपी से बचने के लिए महिला प्रोफेसर ने एक परिवार से मांगी मदद

 

By: Krishnapal Singh

Updated: 22 Sep 2018, 12:46 PM IST

इंदौर. शहर में छेड़छाड़ की वारदात रूकने का नाम नहीं ले रही,राह चलते युवती और महिलाओं से छेड़छाड़ की घटनाओं के बाद अब देवी अहिल्या विश्वविद्यालय का कैंपस भी इससे अछूता नहीं रहा गया है। गुरुवार शाम के वक्त एेसा ही कुछ यूनिर्वसिटी के तक्षशिला कैंपस में हुआ। पेशे से डॉ पीडिता काम खत्म कर रोज की तरह प्रोफेसर कॉलोनी स्थित क्वार्टर की तरफ जा रही थी। तभी एक मनचले ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया। वह खुद को यूनिर्वसिटी का छात्र बताने लगा। फिर मौका देखकर मनचले ने उन्हें बुरी नीयत से पकड़ लिया। वे खुद को बचाते हुए प्रोफेसर कॉलोनी स्थित एक क्वार्टर में घुस गई। आरोपी के वहां से चले जाने के बाद घबराई प्रोफेसर केस दर्ज कराने थाने पहुंची।

टीआई संजय शुक्ला के मुताबिक 35 वर्षीय डॉ निवासी नाईजीरिया की शिकायत पर आरोपी छात्र रोहित के खिलाफ छेड़छाड़ का केस दर्ज किया है। पीडि़ता ने बताया की यूनिर्वसिटी कैंपस स्थित स्कूल ऑफ बॉयोटेक्नोलॉजी में रिसर्च स्कॉलर है। यहां वे असिसटेंट प्रोफेसर के पद पर है। कैंपस में हुई छेड़छाड़ के बाद वे अन्य प्रोफेसर के साथ थाने शिकायत दर्ज कराने पहुंची। उन्होंने बताया की वे शाम करीब ७ बजे स्कूल ऑफ बॉयोटेक्नोलॉजी से प्रोफेसर कॉलोनी स्थित क्वार्टर पैदल जाने लगी। इस दौरान कैंपस में आरोपी उनका पीछा करने लगा। वह कहने लगा की क्या आप नाइजीरिया से हो। यह सुन कर उन्होंने उसे नजरअंदाज कर दिया। फिर आरोपी ने उन्हें रोकने का प्रयास करते हुए चाय पीने का प्रस्ताव रखा। वह जबरदस्ती दबाव बनाते हुए कहने लगा की वह यूनिर्वसिटी में स्कूल ऑफ फिजिकल एजुकेशन का छात्र है। तब उसने अपना नाम रोहित बताया और मोबाइल नंबर मांग लिया। आरोपी के यूनिर्वसिटी के होने की वजह से उन्होंने उसके साथ चाय पीने चली गई। इसके बाद प्रोफेसर फिर अपने क्वार्टर की ओर जाने लगी। वे संदेह के चलती मुड़ी तो आरोपी उनका पीछा करते दिखा। कोई अनहोनी होने के डर से विदेशी प्रोफेसर ने तेज चलना शुरू किया तो आरोपी उनका भागते हुए पीछा करने लगा और उन्हें बुरी नीयत से पकड़ लिया। घबराकर उन्होंने आरोपी को धक्का देकर खुद से दूर किया। वे दौड़ते हुए कॉलोनी स्थित एक प्रोफेसर के घर मदद के लिए पहुंची। आरोपी यह देख वहां से भाग गया। घटना से डरी विदेशी प्रोफेसर ने यह बात यूनिर्वसिटी प्रबंधन को बताई। इसके बाद वे देररात थाने शिकायत करने पहुंची। घटना के बाद पुलिस आरोपी छात्र की तलाश में जुटी है।

Krishnapal Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned