फेसबुक लाइव कर पिता पर लगाया मारपीट का आरोप, पिता बोले- तांत्रिक के चक्कर में है बेटी, हम भी हैं परेशान

फेसबुक लाइव कर पिता पर लगाया मारपीट का आरोप, पिता बोले- तांत्रिक के चक्कर में है बेटी, हम भी हैं परेशान
रात 2 बजे फेसबुक लाइव कर पिता पर लगाया मारपीट का आरोप, पिता बोले- तांत्रिक के चक्कर में है बेटी, हम भी हैं परेशान

Reena Sharma | Updated: 06 Oct 2019, 02:28:16 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

  • रात 2 बजे किया फेसबुक लाइव, सुबह बोली - सॉल्व हो गया मौटर
  • बेटी के आरोप के बाद पिता ने कहा बेटी की मानसिक हालत अस्थिर, नहीं कराती इलाज

इंदौर. शुक्रवार की रात करीब दो बजे 28 वर्षीय युवती योगा टीचर (योगा टीचर) ने खुद को फेसबुक पर लाइव कर अपने पिता पर मारपीट सहित कई आरोप लगाए। उसने खुद को कॉलोनी में बंधक बना लेने और पिता द्वारा पागल साबित करने की बातें कहीं। ये वीडियो विदेश में उसके दोस्तों ने देखे तो अपने रिश्तेदारों को बताया, जिन्होंने पुलिस को सूचना दी। रात में राजेंद्र नगर थाने की एसआई मौके पर पहुंचीं और युवती की काउंसलिंग कर परिजनों के खिलाफ शिकायत दर्ज की।

सुबह डिलीट कर दिया वीडियो

हालांकि सुबह युवती ने वीडियो डिलीट कर कहा कि मैटर सॉल्व हो गया है। राजेंद्र नगर टीआई सुनील शर्मा ने बताया युवती का आरोप हैं कि पिता उसे काफी परेशान और मारपीट करते हैं। शुक्रवार देर रात पिता और मां के बीच विवाद से परेशान होकर उसने फेसबुक पर दो वीडियो अपलोड किए थे। इनमें वह कॉलोनी के गार्डों से ताला खोलने व पुलिस के पास जाने के लिए मदद मांग रही थी। जानकारी मिलने पर पुलिस पहुंची और युवती की काउंसलिंग की।

रात 2 बजे फेसबुक लाइव कर पिता पर लगाया मारपीट का आरोप, पिता बोले- तांत्रिक के चक्कर में है बेटी, हम भी हैं परेशान

बेटी पड़ गई तांत्रिक के चक्कर में

आरआर कैट में कार्यरत युवती के पिता का कहना है कि मेरी बेटी की मानसिक हालत ठीक नहीं है। कैट में ही डॉक्टरों से उसका इलाज करवा रहा हूं, पर वह मुझे ही गलत समझती है। डाक्टरों के पास काउंसलिंग के लिए भी नहीं जाती। किसी तांत्रिक के चक्कर में पड़ गई है। पूरा परिवार उसकी हरकतों से परेशान हैं।

रिश्तेदार और जनता ही मेरे मददगार

शनिवार सुबह युवती ने फेसबुक प्रोफाइल से दोनों वीडियो डिलीट कर एक नया वीडियो अपलोड किया। इसमें कहा कि मेरी समस्या दूर हो गई है। मैंने पुलिस से तीन मांगें की हैं। वे यह हैं कि मेरी पढ़ाई में रुकावट न आए। मुझे कुछ भी हुआ तो उसके जिम्मेदार मेरे पिता रहेंगे। मुझे पागलखाने नहीं भेजा जाए। मेरे मददगार सिर्फ रिश्तेदार और जनता है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned