सनसनी : बच्चे को सडक़ पर भूला पिता, अपहरण के बाद आई ये खबर...

सनसनी : बच्चे को सडक़ पर भूला पिता, अपहरण के बाद आई ये खबर...

Amit S. Mandloi | Publish: Jul, 14 2018 12:50:24 PM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

मोबाइल की आदत व्यक्ति को किस तरह भारी पड़ सकती है इसका एक उदाहरण शुक्रवार को इंदौर में देखने को मिला।

इंदौर. मोबाइल की आदत व्यक्ति को किस तरह भारी पड़ सकती है इसका एक उदाहरण शुक्रवार को इंदौर में देखने को मिला। एक पिता मोबाइल पर बात करते-करते इतने मशगूल हो गए कि अपने बेटे को बीच सडक़ पर ही भूलकर चले गए। इधर, घबराई मां ने उसके अपहरण की रिपोर्ट लिखवा दी।

kidnap-2

शुक्रवार को टाइल व्यापारी के 11 वर्षीय बच्चे के अपहरण की सूचना पर सनसनी फैल गई। पुलिस ने नाकाबंदी करवा कर सीसीटीवी फुटेज खंगाले। करीब 5 घंटे छानबीन के बाद मिले बच्चे ने बताया कि पिता फोन पर बात करने में व्यस्त थे। उसे बाइक पर बैठाना भूल गए और चले गए। वाकया स्कीम 54 का है। संगम नगर निवासी 42 वर्षीय टाइल व्यापारी गोपाल भावसार के 11 वर्षीय बेटे कुशाग्र के पेट में सूजन थी। शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे गोपाल और पत्नी रीना बेटे की सोनोग्राफी करवाने अपोलो राजश्री (स्कीम 54) अस्पताल ले गए। सोनोग्राफी नहीं हो पाई तो बेटे को पति के पास छोडक़र रीना घर के लिए रवाना हो गई।

बाइक के पीछे दौड़ा, लेकिन नहीं रुके

गोपाल ने बेटे को अस्पताल के गेट के पास खड़ा किया और पार्किंग से बाइक लेने चले गए। उन्होंने गाड़ी स्टार्ट की और दोस्त का फोन आ गया। फोन पर बात करते-करते गोपाल ने फोन हेलमेट में फंसाया और बाइक लेकर चल दिए। बच्चा रोते हुए बाइक के पीछे दौड़ा, तब तक गोपाल काफी आगे निकल गए। घर पहुंचकर देखा तो बाइक पर बेटा नहीं था।

घबराई मां पहुंची पुलिस के पास

बच्चे के लापता होने की खबर मिलते ही रीना ने थाने में पहुंचकर अपहरण की शंका जताई। पुलिस ने गोपाल से पूछताछ कर अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज खंगाले। गोपाल ने बताया कि बच्चा भूखा था। पुलिस को लगा कि वह होटल के आसपास हो सकता है। टीम ने आसपास के होटल, रेस्तरां और पार्क में खोजना शुरू किया। चौराहों पर लगे सीसीटीवी फुटेज भी देखे गए। टीआई ने टीमों को विजय नगर से संगम के तीन रास्तों पर रवाना किया। करीब 5 बजे बच्चा पैदल ही संगम नगर जाते मिला।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned