विधि विभाग में लगी आग से 25 वर्षों के रिकॉर्ड की फाइलें खाक, उठता रहा लापरवाही का धुआं

विधि विभाग में लगी आग से 25 वर्षों के रिकॉर्ड की फाइलें खाक, उठता रहा लापरवाही का धुआं

Reena Sharma | Updated: 26 Jul 2019, 02:04:25 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

नगर निगम में दिया तले अंधेरा: मुख्यालय में ही नहीं आग बुझाने के संसाधन

इंदौर. दिया तले अंधेरा की कहावत गुरुवार को नगर निगम मुख्यालय में चरितार्थ होते नजर आई। दोपहर विधि विभाग के स्टोर रूम में आग लग गई। मौजूद निगमकर्मियों के हाथ पैर फूलने लगे, क्योंकि वहां आग बुझाने के संसाधन ही नहीं थे। पास के ही कमरे में गैस सिलेंडर रखे थे, जिन्हे कर्मचारियों ने जैसे-तैसे बाहर किए, अनेक फाइलें जलकर खाक हो गई। वहीं लाखों रुपए का ब्लीचिंग पाउडर जल गया।

 

indore

स्टोर विभाग के अफसरों के मुताबिक 45 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है। दोपहर साढ़े बारह बजे लोगों ने धुआं उठते देखा। तब तक स्टोर रूम के कागजों ने आग पकड़ ली। आखिरकार दीवार तोडऩे के बाद दमकल पहुंची और आग बुझाने का काम शुरू हुआ।

 

indore

1995 के केसों का रिकॉर्ड

यहां 1995 से लेकर आज तक के सैकड़ों प्रकरणों की फैसला हो चुकी फाइलें रखी थीं। इनमें जिला कोर्ट, हाई कोर्ट व सुप्रीम कोर्ट से संबंधित दस्तावेज थे। विधि विभाग के गोविंद कौशल ने बताया, रिकॉर्ड डिस्पोज मामलों का था, लेकिन अपील होने पर इनकी आवश्यकता पड़ सकती है।

 

indore

फायर सेफ्टी नहीं

निगम के किसी भी विभाग में फायर सेफ्टी की व्यवस्था नहीं है। अफसरों का तर्क है कि नियमानुसार इस तरह की बिल्डिंग के लिए उपकरणों की अनिवार्यता नहीं होती है। यदि स्टोर में फायर सेफ्टी के साधन होते तो आग इतना नहीं फैलती और फाइल व ब्लीचिंग पाउडर को बचाया जा सकता था। सवाल है, शहर के भवनों को आग से सुरक्षा दिलाने वाले निगम में ही आग बुझाने के संसाधन मौजूद नहीं हैं। यदि आग गोदाम में रखे गैस सिलींडर तक पहुंच जाती तो बड़ा हादसा हो सकता था।

शॉर्ट सर्किट से लगी आग

निगमायुक्त आशीष सिंह ने बताया, प्रारंभिक कारण शार्ट सर्किट से लगने का सामने आया है। आग बुझाने में हुई देरी और साधन उपलब्ध नहीं होने के कारणों की जांच कराई जा रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned