युवती ने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर सहेली को इस तरह फंसाया और फिर..

युवती ने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर सहेली को इस तरह फंसाया और फिर..

amit mandloi | Publish: Sep, 05 2018 04:46:01 PM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

उसके हाथ छात्रा के निजी वीडियो लग गए जिस पर उसने पुरुष मित्र के साथ मिलकर साजिश रच दी।

इंदौर. कॉलेज में मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रही छात्रा के निजी वीडियो व फोटो वायरल कर 50 हजार रुपए की फिरौती मांगने के मामले में साइबर सेल ने इंजीनियरिंग छात्र व एक छात्रा को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार छात्रा पहले पीडि़त के साथ एक ही रूम में रहती थी, उसके हाथ छात्रा के निजी वीडियो लग गए जिस पर उसने पुरुष मित्र के साथ मिलकर वसूली की साजिश रच दी।

साइबर सेल के एसपी जितेंद्रसिंह के मुताबिक, युवती को ब्लैकमेल करते हुए रुपए मांगने के आरोप में आरोपी मोहम्मद गुलाम मोइनुद्दीन पिता अनीस बेग उम्र 20 साल निवासी मूल निवासी रांची झारखंड , हाल राऊ व एक युवती को गिरफ्तार किया। आरोपी मो. गुलाम यहां आईआईएसटी इंजीनियरिंग कॉलेज से बीटेक कर रहा है। साइबर सेल में महाराष्ट्र की मूल निवासी छात्रा ने शिकायत की थी। छात्र यहां मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रही है। छात्रा ने बाथरूम में अपने निजी वीडियो मोबाइल में बना लिए थे। वह वीडियो किसी व्यक्ति के पास पहुंच गए, उसे एनोनिमस ब्लड नाम की इंस्टाग्राम प्रोफाइल से उसके वीडियो व फोटो भेजकर उसे सोशल मीडिया परवायरल करने की धमकी देते हुए 50 हजार की मांग की जा रही थी।

साइबर सेल ने पकडऩे के लिए बनाई योजना

affair-2

साइबर सेल ने इस पर पीडि़ता के साथ मिलकर योजना बनाई और धमकी देने वाले को पैसे लेने के बहाने बुलाया। एआईसीटीएसएल के ऑफिस पर मिलना तय हुआ तो वहां साइबर सेल की टीम तैनात हो गई। काफी इंतजार के बाद भी कोई पैसा लेने नहीं आया। अफसरों का मानना है कि घेराबंदी की आशंका होने से धमकाने वाला नहीं आया। साइबर सेल ने इस फर्जी इंस्टाग्राम अकाउंट की जानकारी हासिल की तो पता चला कि उसका संचालन आरोपी मो. गुलाम व उसकी दोस्त युवती द्वारा किया जा रहा है। इस आधार पर साइबर सेल ने दोनों को पकड़ लिया।

लैपटॉप से डिलीट नहीं कर पाई फोटो

एसपी जितेंद्रसिंह के मुताबिक, पूछताछ करने पर पता चला कि गिरफ्तार युवती भी मैनेजमेंट की छात्रा है। पहले वह कोटा में पढ़ाई कर रहे थे जहां दोनों एक ही कमरे में रुके थे। वहां फरियादी छात्रा का मोबाइल खराब ुहुआ तो अपना डाटा आरोपी छात्रा के लैपटॉप में सेव कर दिया था। बाद में अन्य डाटा तो हटा दिया, लेकिन वह अपने निजी वीडियो व फोटो नहीं हटा पाई। आरोपी छात्रा ने यह वीडियो, फोटो सेव कर रख लिए थे। उसने अपने दोस्त आरोपी मो. गुलाम को वीडियो फोटो की जानकारी दी और फिर दोनों ने उसे वायरल करने की धमकी देते हुए पीडि़त छात्रा को 50 हजार रुपए के लिए धमकाना शुरू कर दिया था। पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।

Ad Block is Banned