scriptNow there will be games in the bridge... | ब्रिज के बोगदों में अब होगा खेल... | Patrika News

ब्रिज के बोगदों में अब होगा खेल...

-हिंदुस्तान का पहला प्ले जोन तैयार, देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर को मिल सकती है एक और सौगात
-पीपल्याहाना ओवर ब्रिज के नीचे किया तैयार, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री कर सकते हैं लोकार्पण
- चार ब्लॉक बनाए, क्रिकेट, फुटबाल, हॉकी, बास्केटबॉल और स्केटिंग को दिए

इंदौर

Published: May 04, 2022 11:48:40 am

इंदौर. शहर को एक बड़ी सौगात मिल सकती है। पीपल्याहाना ओवर ब्रिज के नीचे प्ले जोन तैयार हो गया है। उसके टेंडर भी हो गए हैं, जिसमें कई कंपनियों ने भाग लिया। संभावना बन रही है कि कल नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्रङ्क्षसह अपने दौरे में इसका लोकार्पण कर सकते हैं। ये देश का ऐसा प्ले जोन होगा, जो ब्रिज के नीचे बना है।
ब्रिज के बोगदों में अब होगा खेल...
ब्रिज के बोगदों में अब होगा खेल...
स्वच्छता में लगातार पांच बार नंबर वन आने के साथ कई ऐसे काम हो रहे हैं, जिसमें महानगर हो या अन्य शहरों से इंदौर ने खुद को अलग साबित किया। इसी कड़ी में इंदौर विकास प्राधिकरण ने भी एक कल्पना की थी, जो अब साकार हो गई। देशभर के ओवर ब्रिजों के नीचे हमने दुकानें, अवैध कब्जे, कचरों के ढेर और पार्किंग देखी थी, लेकिन हिंदुस्तान का पहला प्ले जोन नजर आएगा। दो करोड़ की लागत से यह तैयार हो गया है। चार ब्लॉक बनाए गए हैं जो क्रिकेट, फुटबाल, हॉकी, बास्केटबॉल और स्केटिंग को दिए गए हैं। बोगदों के चारों तरफ जाली लगाकर लाइट लगा दी गई है। साथ में नीचे की जमीन उस खेल के अनुसार तैयार कराई गई। सारा काम उस खेल के विशेषज्ञ की निगरानी में हुआ। इसके अलावा दो बोगदों में पार्किंग की व्यवस्था की गई है। इनके संचालन को लेकर आईडीए ने टेंडर जारी किए थे, जिसमें काफी लोगों ने भाग लिया। तकनीकी पैमाने पर जांच करने के बाद आज लगभग तय कर दिया जाएगा कि संचालन कौन करेगा। आईडीए अध्यक्ष जयपालङ्क्षसह चावड़ा प्रयास कर रहे हैं कि कल नगरीय प्रशासन व आवास मंत्री भूपेंद्रङ्क्षसह अपने दौरे में उसका लोकार्पण करें।
साउथ कोरिया में देखा था
आईडीए सीईओ विवेक श्रोत्रिय कुछ वर्ष पहले साउथ कोरिया गए थे। वहां पर बस में गुजरने के दौरान उन्होंने ब्रिज के नीचे वाले हिस्से में खेल की गतिविधि संचालित होते देखी थी। जब पीपल्याहाना ओवर ब्रिज का काम पूरा हुआ तो श्रोत्रिय ने उस कल्पना को जमीन पर उतारने की योजना बनाई। जगह भी पर्याप्त थी। एक-एक बोगदा 30 बाय 24 मीटर का था।
ब्रिज के बोगदों में अब होगा खेल...बाकी में भी हो सकती है पहल
शहर के अधिकतर ब्रिज के नीचे अवैध कब्जे हो गए हैं। कुछ जगहों पर लोगों ने गुमटियां लगा दीं तो आसपास रहवासी क्षेत्र होने वाले ब्रिजों के नीचे कार पार्किंग हो गई। आईडीए से सबक लेकर नगर निगम उन ब्रिजों के नीचे ऐसी खेल गतिविधियों के लिए प्ले जोन बना सकता है। इससे साफ सफाई भी रहेगी और दूसरी बात अवैध कब्जे भी नहीं होंगे।
ब्रिज के बोगदों में अब होगा खेल...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थाकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मMenstrual Hygiene Day 2022: दुनिया के वो देश जिन्होंने पेड पीरियड लीव को दी मंजूरी'साउथ फिल्मों ने मुझे बुरी हिंदी फिल्मों से बचाया' ये क्या बोल गए सोनू सूदभाजपा प्रदेश अध्यक्ष का हेमंत सरकार पर बड़ा हमला, कहा - 'जब तक सत्ता से बाहर नहीं करेंगे, तब तक चैन से नहीं सोएंगे'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.