सावन में चमकी सोना-चांदी की चमक

सावन में चमकी सोना-चांदी की चमक

Vishal Mate | Publish: Jul, 26 2019 05:42:39 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

सोना 35000 पार, चांदी में भी निखार

इंदौर. अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने की कीमतें बढऩे की वजह से घरेलू बाजार में सोने ने नया रिकॉर्ड बना दिया। घरेलू बाजार में सोना 35000 रुपये प्रति 10 ग्राम की सीमा को पार कर गया। सोने की बढ़ती चमक के साथ चांदी भी घरेलू बाजार में 42000 रुपये प्रति किलोग्राम के करीब जा पहुंची है। पिछले एक महीने में सोना करीब सात फीसदी और चांदी करीब नौ फीसदी महंगी हुई है।
वैश्विक बाजार की तेजी का असर
वैश्विक बाजार में सोने की कीमतें तेजी के साथ खुलीं जिसका असर घरेलू बाजार पर भी पड़ा। वैश्विक बाजार में सोना की कीमतें एक साल की ऊंचाई पर पहुंच गईं। कारोबार के दौरान कीमतें 1453.09 डॉलर प्रति औंस तक पहुंच गई है। सराफा कारोबारियों का कहना है कि अमेरिकी केंद्रीय बैंक द्वारा ब्याज दरों में कटौती का संकेत दिए जाने से डॉलर में कमजोरी आई है जिससे सोने और चांदी का भाव बढ़ रहा है। ईरान और अमेरिका के बीच तनाव बढऩे से निवेशक सुरक्षित निवेश की तलाश में है जिसके लिए सोने से बेहतर कुछ और नहीं हो सकता है। चीन और अमेरिका के बीच व्यापार युद्ध अब भी शांत नहीं हुआ है। वैश्विक स्तर पर व्यापारिक और राजनीतिक तनाव के कारण सोना निवेशकों के बीच पंसदीदा विकल्प बना हुआ है। दुनियाभर में ईटीएफ गोल्ड होल्डिंग में लगातार बढ़ोतरी कर रहे हैं।
संभल कर करे निवेश
सोने में लगातार तेजी देखी जा रही है आगे भी तेजी का अनुमान किया जा रहा है, लेकिन जिस स्तर पर कीमतें पहुंच चुकी हैं यहां से गोता भी लगा सकती हैं। ऐसे में निवेशकों को संभल कर निवेश करना होगा।
आनंद चौकसे, सराफा कारोबारी

पुराना सोने की रिकॉर्ड बिक्री
सोना-चांदी का भाव आसमान छू रहा है इससे लोग घरों में रखा अपना सोना -चांदी बेच रहे हैं। बताया जा रहा है कि पुराने गोल्ड की बिक्री सालाना आधार पर 10.15 फीसदी बढ़ी है। अगले कुछ हफ्तों में सोने की कीमतों में और तेजी आने के आसार हैं इससे पुराने सोने की बिक्री और बढ़ सकती है। विश्लेषकों का कहना है कि अमेरिकी केन्द्रीय बैंक फेडरल रिजर्व बैंक की ओर से ब्याज दरों में कटौती और ट्रेड वॉर को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है। इसके चलते सोने के दाम छोटी से मध्यम अवधि में 1480 डॉलर प्रति ट्रॉय औंस रह सकता है

सोने में क्यों आई तेजी
सराफा कारोबारियों का कहना है कि पिछले दिनों यूएस डाटा बेहतर आया था, जिसके बाद ऐसा लग रहा था कि वहां का सैंट्रल बैंक ब्याज दरों को लेकर नरमी न दिखा। लेकिन वीरवार को यूएस फैड ने आगे दरों में कटौती के संकेत दिए हैं। इससे सोने को लेकर एक बार फिर सैंटीमैंट मजबूत हुए हैं। मिडल ईस्ट में एक बार फिर तनाव बढ़ा है। यूएस और ईरान के बीच टैंशन बढऩे की आशंका है। वहीं चालू खाता घाटा बढऩे से भी घरेलू स्तर पर सोने की कीमत बढ़ेगी।

इन वजहों से भी दिख रहा है सपोर्ट

- यूएस और चीन के बीच ट्रेड वॉर बढ़ी तो इक्विटी मार्कीट पर दबाव होगा, जिससे गोल्ड को सपोर्ट मिलेगा।
- इस साल घरेलू स्तर पर वैडिंग सीजन काफी बिजी है, जिससे मांग बढऩे की पूरी उम्मीद है।
- अमरीका में संभावित मंदी से महंगाई बढ़ सकती है जिससे गोल्ड को सपोर्ट मिलेगा।
- सैंट्रल बैंक द्वारा फिजिकल बॉइंग और कई ग्लोबल बाजारों में सुस्त रिटर्न भी इसके पीछे बड़ी वजह हो सकते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned