इंदौर को मिला छह समर स्पेशल ट्रेन का तोहफा

दिल्ली में रेलवे बोर्ड के साथ बैठक

शांति-अवंतिका में एलएचबी कोच, इंदौर-भोपाल नॉनस्टॉप ट्रेन भी
इंदौर. गर्मियों की छुट्टी के लिए रेलवे ने इंदौर से ६ नई ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है। यह समर स्पेशल अप्रैल-मई से चलाई जाएंगी। इसके अलावा इंदौर से भोपाल के लिए नॉन स्टॉप ट्रेन को भी स्वीकृति मिली है। साथ ही इंदौर-रतलाम डेमू ट्रेन के कोच भी बढ़ाकर ३२ किए हैं, जो अभी ८ कोच पर निर्भर है। उक्त ट्रेनों की तारीख व टाइम टेबल २२-२३ फरवरी को होने वाली रेलवे बोर्ड टाइम टेबल कमेटी की बैठक में तय होगा।

बजट की निराशा छंटी
गुरुवार को पेश केंद्रीय आम बजट में भले ही इंदौर को कोई अच्छी सौगात नहीं मिली हो, लेकिन शुक्रवार को दिल्ली के रेलवे बोर्ड कार्यालय में लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन के रेलवे सलाहकार नागेश नामजोशी के साथ बैठक में शहर के रेल यात्रियों को बड़ा तोहफा दिया है। समर स्पेशल ट्रेन में इंदौर से दिल्ली वाया अजमेर , इंदौर से पटना, इंदौर से मुंबई बांद्रा, इंदौर से जगन्नाथपुरी व इंदौर से रायपुर शामिल हैं। इंदौर-भोपाल नॉन स्टॉप ट्रेन सिर्फ कोच लगाकर चलाई जाएगी।

ये फायदे होंगे
भोपाल नॉन स्टॉप पैसेंजर : नियमित यात्रा करने वालों के लिए सुविधाजनक होगी।
इंदौर-दिल्ली वाया अजमेर : इंदौर से राजस्थान जाने वाले यात्रियों के लिए अजमेर के साथ दिल्ली के लिए भी सफर आसान होगा।
इंदौर-पटना : गर्मियों की छुट्टियों में इंदौर से बिहार जाने वाले यात्रियों की संख्या खासी बढऩे से लंबी वेटिंग रहती है और कई यात्री परेशान होते हैं। उन्हें राहत मिलेगी।
इंदौर-मुंबई बांद्रा : इंदौर से कई यात्री व्यापार के लिए मुंबई नियमित आना-जाना करते हैं। उन्हें अतिरिक्त ट्रेन मिलने से आसानी होगी।
इंदौर-जगन्नाथपुरी : इंदौर से जगन्नाथपुरी जाने के लिए श्रद्धालुओं को ट्रेन बदल कर सफर करना पड़ता था। अब सीधे जगन्नाथपुरी जा सकेंगे।
इंदौर रायपुर ट्रेन : इंदौर से रायपुर के लिए अभी कोई सीधी ट्रेन नहीं है। इससे गर्मियों में घर जाने वाले यात्रियों को आरामदायक सफर मिल सकेगा।

शांति जाएगी राजकोट तक
इंदौर से गांधीनगर शांति एक्सप्रेस को राजकोट तक चलाए जाने पर भी सहमति बनी है। शांति व अवंतिका एक्सप्रेस ट्रेन में पुराने कोच हटाकर जर्मन तकनीक पर बने नए एलएचबी (लिंक हॉफमैन बुश) लगाए जाएंगे। रेलवे पैसेंजर एमिनिटीज बोर्ड सदस्य नागेश नामजोशी ने बताया, लोकसभा स्पीकर महाजन के प्रयासों से ट्रेनों की दूरी बढ़ाने व नई ट्रेनों की मांग पूरी की गई है।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned