'पप्पू' से परेशान सरकार, हटा रही यह नाम

गांव-गांव में लैपटॉप के साथ पहुंच रही टीमें

By: deepak deewan

Updated: 26 Sep 2021, 02:45 PM IST

इंदौर. पप्पू से सरकार परेशान हो गई है. सरकार को इस नाम से इतनी उलझन है कि इसे अब हटाने पर ही तुल गई है. इसके लिए लैपटॉप लिए विभाग की टीमें गांव—गांव जा रहीं हैं. ग्रामीणों से जानकारी लेकर आधार कार्ड के आधार पर इस नाम में सुधार कर रही हैं। हालांकि ये सब ‘लैंड रिकॉर्ड सुधार अभियान’ के अंतर्गत किया जा रहा है.

दरअसल पप्पू जैसे नाम परेशानी पैदा करते हैं. इसके साथ ही गप्पू, टप्पू, रामू, गंगू जैसे नाम भी जमीन के मालिकों के रूप में दर्ज हैं. लैंड रिकार्ड में छोटी बहू, बड़ी बहू जैसे नाम भी आज तक चल रहे हैं. मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने पिछले दिनों वीडियो कॉन्फ्रेस में ‘लैंड रिकॉर्ड सुधार अभियान’ शुरू करने का निर्देश दिया तो इन नामों को हटाने का काम भी शुरु कर दिया गया.

कलेक्टर मनीष सिंह ने लैंड रिकॉर्ड में दर्ज पप्पू, गप्पू जैसे प्रचलित नामों में सुधार करने को कहा. आधे-अधूरे नामों में भी सुधार के लिए कहा गया है. गलती से दर्ज किए गए सालों पुराने भी हटाए जा रहे हैं. इसके तहत लैपटॉप लिए विभागीय टीमें ग्रामीणों से जानकारी लेकर आधार कार्ड के आधार पर सुधार करने के काम में लगीं है.

land_record.jpg

रेवेन्यू अधिकारी गांव-गांव पहुंचकर रिकॉर्ड में सुधार करने का काम कर रहे हैं। लैंड रिकॉर्ड में दर्ज प्रचलित नामों के साथ ही इसमें की गई गलतियों में सुधार किया जा रहा है. इन लोगों के आधार कार्ड में नाम अलग होने के मामले में तस्दीक कर रिकॉर्ड में सुधार करने का काम भी किया जा रहा है.

लैंड रिकॉर्ड में त्रुटियां होने से खासकर किसानों को शासन की योजनाओं जैसे पीएम किसान योजना, फसल बीमा आदि का लाभ नहीं मिल पाता। इसके साथ ही बैंक से लोन लेने, जमीन नामांतरण, बंटवारा आदि के केसों में भी कठिनाई होती है। लैंड रिकॉर्ड की इन गल्तियों के कारण अधिकारियों-कर्मचारियों को भी दिक्कत होती है.

Show More
deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned