1 अगस्त को हरियाली अमावस्या, 125 साल बाद बन रहा महायोग का संयोग, कई गुना बढ़ेगा पूजा का लाभ

125 साल बाद अमावस्या पर पंच महायोग, 22 सितंबर तक नहीं होंगे कोई शुभ काम

By: रीना शर्मा

Published: 07 Jul 2019, 02:41 PM IST

इंदौर. 1 अगस्त को हरियाली अमावस्या पर करीब 125 साल बाद पंच महायोग का संयोग बन रहा है। इस दिन सिद्धि योग, शुभ योग, गुरु पुष्यामृत योग, सर्वार्थ सिद्धि योग, अमृत सिद्धि योग बन रहा है। इस दिन पूजा का लाभ कई गुना बढ़ जाता है। रक्षा बंधन पर रात 9 बजे के बाद पंचक शुरू होगा, इससे पूर्व राखी बांधना श्रेष्ठ है। नाग पंचमी के दिन चंद्र प्रधान हस्त नक्षत्र और त्रियोग का संयोग भी बन रहा है। सर्वार्थ सिद्धि योग, सिद्धि योग और रवि योग मिलकर त्रियोग बना रहे हैं।

must read : VIDEO : 24 घंटे में 4.5 इंच बारिश, लबालब भर गए शहर के तालाब, इतनी है क्षमता

भगवान भोलेनाथ की भक्ति का सावन माह 17 जुलाई से प्रारंभ होगा। इस बार सावन माह में कई विशेष और शुभ संयोग भी बनेंगे। पूरे चार सोमवार होंगे। शिवालय बोल बम के जयघोष से जहां गूंजेंगे वहीं पूरे माह में कई पर्व और त्यौहार भी आएंगे। इस साल सावन माह की शुरुआत चंद्र ग्रहण के साथ हो रही है। 16 जुलाई की रात में चंद्र ग्रहण होगा, जो कि अगले दिन 17 जुलाई की सुबह तक रहेगा। 17 जुलाई से ही सावन माह भी शुरू हो जाएगा। 17 को सूर्य राशि बदलकर मिथुन से कर्क में प्रवेश करेगा। इस दिन चंद्र मकर में, मंगल और बुध कर्क राशि में रहेगा। 17 जुलाई को सूर्य प्रधान उत्तराषाढ़ा नक्षत्र से सावन माह की शुरुआत हो रही है।

must read : VIDEO : 24 घंटे में 4.5 इंच बारिश, लबालब भर गए शहर के तालाब, इतनी है क्षमता

इस दिन वज्र और विष कुंभ योग भी बन रहा है। सावन माह १७ जुलाई से १५ अगस्त तक रहेगा। इस दौरान कई पर्व और त्यौहार भी आएंगे। ज्योतिषी गुलशन अग्रवाल ने बताया कि 125 सालों बाद हरियाली अमावस्या पर पंच महायोग का संयोग है। नाग पंचमी भी सोमवार के दिन ही आएगी।

must read : मालवा एक्सप्रेस में एसी की जगह स्लीपर कोच देखकर हक्के-बक्के रह गए यात्री, फिर हुआ ये...

कई सालों बाद 15 अगस्त को चंद्र प्रधान श्रवण नक्षत्र में स्वतंत्रता दिवस और रक्षा बंधन का संयोग बन रहा है। सावन पूरे 30 दिन का होगा और 4 सोमवार आएंगे। तीसरे सोमवार को त्रियोग का संयोग बन रहा है। 20 जुलाई को शुक्र ग्रह अस्त हो रहा है जो 22 सितंबर तक रहेगा। इस दौरान किसी भी तरह के शुभ कार्य करना निषेध रहेंगे।

must read : पत्नी की लाश पलंग और फंदे पर लटका मिला पति, भाई बोला सूदखोर महिला की धमकी से थे परेशान

125 साल बाद अमावस्या पर पंच महायोग

1 अगस्त को हरियाली अमावस्या पर करीब 125 साल बाद पंच महायोग का संयोग बन रहा है। इस दिन सिद्धि योग, शुभ योग, गुरु पुष्यामृत योग, सर्वार्थ सिद्धि योग, अमृत सिद्धि योग बन रहा है। इस दिन पूजा का लाभ कई गुना बढ़ जाता है। रक्षा बंधन पर रात ९ बजे के बाद पंचक शुरू होगा, इससे पूर्व राखी बांधना श्रेष्ठ है। नाग पंचमी के दिन चंद्र प्रधान हस्त नक्षत्र और त्रियोग का संयोग भी बन रहा है। सर्वार्थ सिद्धि योग, सिद्धि योग और रवि योग मिलकर त्रियोग बना रहे हैं।

रीना शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned