स्वच्छता में हैट्रिक : श्रेय की होड़ भाजपा-कांग्रेस आमने सामने

स्वच्छता सर्वे के रिजल्ट 6 मार्च को दिल्ली में घोषित होना है

By: हुसैन अली

Published: 03 Mar 2019, 01:10 PM IST


इंदौर. स्वच्छता सर्वे के रिजल्ट 6 मार्च को दिल्ली में घोषित होना है, लेकिन नंबर 1 की हैट्रिक की संभावना के चलते इसका श्रेय लेने की होड़ में सियासत तेज हो गई है। सफाई का इनाम पाने को नेताओं में होड़ मची है। जहां नेता प्रतिपक्ष इस बार उनकी सरकार के काम के चलते इनाम लेने जाने की बात कह रही हैं, वहीं महापौर जनप्रतिनिधियों का अपमान बताते हुए इसे छोटी सोच की राजनीति बता रही हैं।
स्वच्छता सर्वेक्षण के दिल्ली में होने वाले कार्यक्रम की गाइड लाइन में प्रदेश के स्वच्छता मिशन संचालक, 3 शहरों इंदौर, भोपाल, उज्जैन के महापौर तथा निगमायुक्त सहित इससे जुड़े एक व्यक्ति को शामिल होने को कहा था। शुक्रवार को राज्य सरकार ने कार्यक्रम में तीनों शहरों के नेता प्रतिपक्ष को भेजने के आदेश जारी किए थे। शनिवार को नेता प्रतिपक्ष फौजिया अलीम ने कहा, सफाई व्यवस्था में महापौर मालिनी गौड़ का योगदान नहीं है। शहर की सफाई मेें सरकार द्वारा नियुक्त निगम अफसरों ने काम किया है, इसलिए वे इस कार्यक्रम में शामिल होने जरूर जाएंगी। वहीं महापौर मालिनी गौड़ नेता प्रतिपक्ष के रवैये से नाराज हैं। मैंने दिन-रात मॉनिटरिंग की। अब इनाम लेने के लिए नेता प्रतिपक्ष आगे आ रहे हैं। छोटी सोच है।

हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned