scriptHigher education department changed the rules for admission | बड़ी राहत: कॉलेजों में एडमिशन के लिए नियम बदले, हजारों छात्रों को होगा फायदा | Patrika News

बड़ी राहत: कॉलेजों में एडमिशन के लिए नियम बदले, हजारों छात्रों को होगा फायदा

उच्च शिक्षा विभाग की घोषणा...। अल्पसंख्यक कॉलेजों के लिए हटा दी 1:1 की शर्त

इंदौर

Updated: June 21, 2022 01:57:02 pm

इंदौर। उच्च शिक्षा विभाग ने कॉलेजों में दाखिले के लिए चल रही ऑनलाइन काउंसलिंग के नियमों में बदलाव की घोषणा की है। इससे इंदौर के हजारों ऐसे विद्यार्थियों को फायदा मिला है, जो अल्पसंख्यक कॉलेजों में दाखिला चाह रहे थे। विभाग ने इन कॉलेजों में सीट अलॉटमेंट के लिए 1:1 के नियम को हटा दिया है। यानी अल्पसंख्यक कॉलेजों में अब सभी समुदाय के विद्यार्थी दाखिला ले सकेंगे।

college.png
,,

इंदौर में गुजराती कॉलेज, विशिष्ट कॉलेज, अरिहंत कॉलेज, जैन दिवाकर कॉलेज, रेनेसां कॉलेज, इस्बा कॉलेज, सॉफ्टविजन कॉलेज, अक्षय एकेडमी सहित 37 कॉलेजों के पास अल्पसंख्यक का दर्जा है। पिछले साल तक इन कॉलेजों को काउंसलिंग से मुक्त रखा जाता था। इस बार विभाग ने इन्हें काउंसलिंग में शामिल करने के साथ ही वहां सीट अलॉटमेंट के लिए 1:1 का फॉर्मूला लगाया है।

इसके तहत एक सीट उस समुदाय के विद्यार्थी को अलॉट की जाती, जिससे कॉलेज ने अल्पसंख्यक का दर्जा हासिल किया और दूसरी सीट अन्य समुदाय के विद्यार्थियों को मिलती। इस फॉर्मूले के कारण ऑनलाइन काउंसलिंग के पहले चरण में ही कई छात्रों को अलॉटमेंट नहीं मिल सकें। दूसरी ओर कॉलेजों को भी कम सीटें अलॉट हुईं। अल्पसंख्यक महाविद्यालय संघ ने बीते दिनों उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव से मिलकर ये फॉर्मूला हटाने की मांग की। पूर्व कुलपति प्रो. नरेंद्र धाकड़ ने मंत्री को अल्पसंख्यक मार्गदर्शी सिद्धांत एवं प्रक्रिया 2007 के बिंदु क्रमांक 02 का हवाला देते हुए बताया था कि अल्पसंख्यक कॉलेज किसी भी गैर अल्पसंख्यक विद्यार्थी को प्रवेश के लिए मना नहीं कर सकते।

education.png

आभार मानने उज्जैन पहुंचे प्राचार्य

अल्पसंख्यक कॉलेजों की मांग पूरी होने पर कॉलेज प्राचार्यों के प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार को उज्जैन पहुंचकर मंत्री मोहन यादव का आभार माना। इनमें प्रो. नरेंद्र धाकड़, प्रो. अनस इकबाल सहित कई प्राचार्य शामिल थे। धाकड़ ने बताया, सरकार ने महत्वपूर्ण फैसला लिया है। हमें पूरा भरोसा है कि इस सत्र में प्रदेश में सर्वाधिक दाखिले होंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री मोदी आज गोवा में ‘हर घर जल उत्सव’ को करेंगे संबोधितJanmashtami 2022: वृंदावन के श्री बांके बिहारीजी मंदिर में होती है जन्माष्टमी की धूम, जानिए इस मंदिर से जुड़ी खास बातेंकर्नाटक की राजनीति: येडियूरप्पा के लिए भाजपा ने क्यों बदला अलिखित नियमदिग्विजय सिंह का बड़ा बयान, बिल्डरों के साथ मिलकर कृषि कॉलेज की जमीन को बेच रहे अफसर-नेतापंजाब के अटारी बॉर्डर के पास दिखा ड्रोन, BSF की फायरिंग के बाद पाकिस्तान की तरफ लौटाविश्व कुश्ती चैंपियनशिप में प्रियांशी ने जीता कांस्यकौन हैं IAS राजेश वर्मा, जिन्हें किया गया राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का सचिव नियुक्त?IND vs ZIM: शिखर धवन और शुभमन गिल की शानदार बल्लेबाजी, भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.