VIDEO : हनीट्रैप पर बोले पूर्व गृहमंत्री - पुलिस के पास हैं सारे वीडियो, राजनीतिक दबाव में सामने नहीं आ रहे नाम

VIDEO : हनीट्रैप पर बोले पूर्व गृहमंत्री - पुलिस के पास हैं सारे वीडियो, राजनीतिक दबाव में सामने नहीं आ रहे नाम
VIDEO : हनीट्रैप पर बोले पूर्व गृहमंत्री - पुलिस के पास हैं सारे वीडियो, राजनीतिक दबाव में सामने नहीं आ रहे नाम

Reena Sharma | Publish: Sep, 21 2019 02:34:55 PM (IST) | Updated: Sep, 21 2019 02:41:35 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

  • पूर्व गृहमंत्री और भाजपा नेता ने कहा हनीट्रैप मामले की जांच सीबीआई या अन्य एजेंसी से करानी चाहिए।

विकास मिश्रा @ इंदौर. हनीट्रैप मामले में पूर्व गृहमंत्री और भाजपा नेता भूपेंद्र सिंह ने पुलिस प्रशासन की तारीफ करते हुए कहा हनीट्रैप एक बहुत बड़ा मामला है इसमें किसी भी पार्टी के नेता-अफसर हो सभी का नाम सामने आना चाहिए। राजनीतिक दबाव के चलते पुलिस खुलकर काम नहीं कर पा रही है मामले की जांच सीबीआई या किसी अन्य एजेंसी से कराई जाना चाहिए। जानकारी के मुताबिक पूर्व गृहमंत्री संगठन की बैठक के लिए इंदौर आए है।

पूर्व गृहमंत्री ने कहा इस पूरे मामले की निष्पक्षता से जांच होनी चाहिए। इस मामले में कई अफसरों-राजनेताओं के नाम खुलकर सामने रखना चाहिए। यह मामला पूरे सिस्टम को खराब करने का एक बड़ा प्रयास है। पुलिस को इसके हर तथ्य को सामने लाना होगा। हो सकता है पुलिस पर कोई दबाव हो। समाज के सामने ये बात आना जरूरी है कि इसमें कौन से लोग शामिल हैं। पुलिस अगर चाहेगी तो सारे नाम सामने आ सकते है। पुलिस के पास सारे वीडियो है जिससे यह मुश्किल नहीं है। मप्र में जब भी कांग्रेस की सरकारी आती है तो अपराधियों को लगता है कि अपनी सरकार आ गई है इसलिए अपराध तेजी से बढ़े है चाहे महिला अपराध के मामले हो या फिर अन्य। आंकड़ो पर जाएं तो इंदौर नंबर-1 और भोपाल नंबर-2 है अपराध के मामले में।

पुलिस की खींचतान आ गई सामने

नगर निगम के इंजीनियर हरभजनसिंह की हनी ट्रैप मामले में पुलिस की खींचतान सामने आ गई है। रसूखदार मंत्री-अफसर की लिप्तता वाले इस हाई प्रोफाइल केस में गिरफ्तारी से लेकर जांच व उपकरण तक के सारे सूत्र एटीएस व क्राइम ब्रांच के हाथ में हैं जबकि केस पलासिया थाने में दर्ज हुआ है। केस में पलासिया पुलिस की भूमिका ज्यादा नहीं है और न ही वे पूछताछ कर पा रहे हैं। ऐसे में एसपी, पूर्व मो. यूसुफ कुरैशी ने एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि मामले की जांच क्राइम ब्रांच से ही कराई जाए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned