चेक से करते हैं बिजली बिल का भुगतान तो पढ़ लीजिए ये खबर, कंपनी ने लिया ये फैसला

चेक से करते हैं बिजली बिल का भुगतान तो पढ़ लीजिए ये खबर, कंपनी ने लिया ये फैसला
चेक से करते हैं बिजली बिल का भुगतान तो पढ़ लीजिए ये खबर, कंपनी ने लिया ये फैसला

Hussain Ali | Updated: 06 Oct 2019, 09:00:00 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी प्रबंधन ने यह फैसला उस समय लिया, जब कंपनी के 100 से ज्यादा इंजीनियरों की बैठक मुख्य प्रबंधक विकास नरवाल पोलोग्राउंड स्थित मुख्यालय में ले रहे थे।

इंदौर. चेक से बिजली बिल जमा करने के बाद अगर वह किसी भी कारण से बाउंस हो गया तो संबंधित उपभोक्ता के खिलाफ कार्रवाई होगी। इसके साथ ही एचटी बिजली कनेक्शन देने में देरी करने वाले इंजीनियर पर भी कार्रवाई की गाज गिरेगी। पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी प्रबंधन ने यह फैसला उस समय लिया, जब कंपनी के 100 से ज्यादा इंजीनियरों की बैठक मुख्य प्रबंधक विकास नरवाल पोलोग्राउंड स्थित मुख्यालय में ले रहे थे।

must read : डोम हादसा : भाजपा पूर्व विधायक बोले- मुझे कुछ गड़बड़ दिख रही है यार और सिर के पास गिरा पाइप

बिजली से संबंधित कामों, शिकायतों और समस्याओं को लेकर समीक्षा बैठक शुक्रवार को रखी गई। बिजली वितरण कंपनी मुख्यालय पोलोग्राउंड में यह बैठक मुख्य प्रबंधक नरवाल ने ली। इस दौरान सीजीएम संतोष टैगोर, डायरेक्टर मनोज झंवर, ईडी संजय मुहासे, गजरा मेहता, बिजली अफसर सुब्रतो राय और अशोक शर्मा सहित 100 से ज्यादा इंजीनियर मौजूद थे। बैठक में मुख्य प्रबंधक नरवाल ने बिजली आपूर्ति ठीक रखने, उपभोक्ताओं को बिल समय पर देने और बिल की बकाया राशि हर हाल में पूरी वसूलने के जहां आदेश दिए वहीं जिन उपभोक्ताओं के चेक बाउंस हो रहे हैं उनके खिलाफ कार्रवाई करने का कहा है। उन्होंने एचटी कनेक्शन देने में देरी करने वाले इंजीनियरों पर कार्रवाई करने का फैसला भी लिया।

must read : ये भी खूब रही : जिससे की लाखों की ठगी उसके घर ही दे आया शादी की पत्रिका

इंजीनियर को थमाया नोटिस

इसके साथ ही इंदौर शहर में मीटराइजनेशन के काम में लापरवाही बरतने वाले इंजीनियर लक्ष्मण सिंह को नोटिस थमाया है। उन्होंने बिजली इंजीनियरों को निर्देशित किया कि शहर में मेंटेनेंस का काम सतत जारी रहेगा ताकि रोशनी के त्योहार दीपावली पर सप्लाय सामान्य बनी रहे। शहर में आईपीडीएस योजना के अंतर्गत नई 11 केवी लो टेंशन (एलटी) बिजली लाइन और ट्रांसफॉर्मर की क्षमता बढ़ाने का जो काम हो रहा है।

कर्मचारी की सुरक्षा के हो पुख्ता इंतजाम

बैठक में मुख्य प्रबंधक नरवाल ने सभी इंजीनियरों को निर्देशित किया है कि जोन पर तैनात लाइन स्टाफ कर्मचारी की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हों ताकि बिजली लाइन पर काम करने के दौरान करंट लगने से उनकी मौत न हो। इसके साथ ही कर्मचारियों को बार-बार ट्रेनिंग देने के आदेश भी दिए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned