कक्कड़ से जुड़ी सभी कंपनियों की होगी जांच

कक्कड़ से जुड़ी सभी कंपनियों की होगी जांच

Pavan Singh Rathore | Publish: Apr, 09 2019 10:53:34 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

- काफी बड़ा है कक्कड़ परिवार का कॉकस
- बड़े लोगों के नाम जुड़े हैं कक्कड़ परिवार से
- कई कंपनियों के निकले आपस में कनेक्शन

इंदौर।
आयकर विभाग के छापे का पटाक्षेप तो हो गया, लेकिन इसकी चर्चा अब भी गरम है। इंदौर की बात करें तो यहां मुख्यमंत्री के ओएसडी प्रवीण कक्कड़ की पत्नी साधना, पुत्र सलिल का कई कंपनियों में हिस्सेदारी है। इन कंपनियों से कुछ और बड़े नाम भी जुड़े हैं, जो आपस में ही एक-दूसरे की कंपनियों के भागीदार हैं या डायरेक्टर्स में शामिल हैं। आयकर विभाग इन सभी की जांच करेगा और कई बड़े खुलासे हो सकते हैं।
आयकर विभाग की टीम दो दिन कक्कड़ के बंगले, ऑफिस और अन्य ठिकानों पर डटी रही। इस दौरान नकदी भले ही ज्यादा नहीं मिली, लेकिन जो अन्य दस्तावेज मिले हैं, उनसे कक्कड़ परिवार का राजनीति और रसूख से गठजोड़ सामने आ रहा है। इस गठजोड़ में कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों के लोग शामिल हैं। प्रवीण कक्कड़ अब भले ही किसी कंपनी में किसी पद पर नहीं हैं, लेकिन उनकी पत्नी और पुत्र का कई कंपनियों में भागीदारिता है और इन कंपनियों से जो लोग जुड़े हैं, वे इंदौर में रसूख के साथ राजनैतिक प्रभाव भी रखते हैं। कक्कड़ परिवार अपनी राजनैतिक पहुंच के कारण इस कॉकस का हिस्सा बना और जल्द ही एक के बाद एक कंपनियों में हिस्सेदारी हासिल करता गया।
प्रवीण कक्कड़
इन कंपनियों में रही है हिस्सेदारी
- दिव्या मल्टीकॉन प्रा. लि.
- हर्ष मार्केटिंग सिस्टम प्रा. लि.
- जलसा बेंक्वेट प्रा. लि.
- विंध्यराज वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक प्रा. लि.
- विंध्यराज रियालिटीज प्रा. लि.
- ऐश्वर्या बिल्डर्स प्रा. लि.
- इंपेटस इंफ्रा प्रा. लि.
- श्रीकृपा सोल्यूशन प्रा. लि.
सलिल कक्कड़
आधा दर्जन कंपनियों में सीधे जुड़े हैं-
- थर्ड आई सिक्यूरिटीज सर्विस प्रा. लि.
- रिलिजियस टूरिज्म प्रा. लि.
ृ- जलसा बैंक्वेट प्रा. लि.
- विंध्यराज रियालिटीज प्रा. लि.
- ऐश्वर्या बिल्डर्स प्रा. लि.
- विंध्यराज कंस्ट्रक्शन इंडिया प्रा. लि.
आधा दर्जन कंपनियों में हिस्सेदारी रही है-
- मालवा ब्रीव्ज एंड एल्कोहल इंडिया प्रा. लि.
- पिनेकल ब्रेवरीज एंड डिस्टलरीज इंडिया प्रा. लि.
- राऊ-पीथमपुर इंफ्रास्ट्रक्चर प्रा. लि.
- पैंको इंटरप्राइजेस प्रा. लि.
- खुश जायका फूडब्लिस प्रा. लि.
- विंध्यराज वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक प्रा. लि.
साधना कक्कड़
इन कंपनियों में सीधे जुड़ाव-
- शरद बिल्डर्स प्रा. लि.
- विंध्यराज लीजर एंड पैराडाइज प्रा. लि.
- विंध्यराज रियालिटीज प्रा. लि.
- विंध्यराज कंस्ट्रक्शन प्रा. लि.
इन कंपनियों में हिस्सेदारी रही है-
- थर्ड आई सिक्यूरिटीज प्रा. लि.
- ऐश्वर्या बिल्डर्स प्रा. लि.
- विंध्यराज वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक प्रा. लि.
थर्ड आई से बना था कॉकस
कक्कड़ परिवार और शहर के बड़े बिल्डरों, धनकुबेरों का थर्ड आई सिक्यूरिटीज के जरिए कॉकस बना था। इसके बाद ये सभी एक के बाद एक कंपनी बनाते गए। इसमें सलिल और उनकी मां साधना के अलावा प्रमुख नाम संदीप कुमार चौरडिय़ा, हितेंद्र सिंह जादौन, गुलाबचंद्र पराशर, साजन पनिक्कर का है। कभी कोई डायरेक्टर बनता, कभी कोई इस्तीफा दे देता। इस तरह इन सभी का प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से दो दर्जन से अधिक कंपनियों में भागीदारी या हिस्सेदारी है या रही है। इस कॉकस ने पिछले पांच-छह साल में रियल स्टेट, बिल्डर्स, सिक्यूरिटीज, ठेकेदारी जैसे क्षेत्रों में रसूख और प्रभाव के इस्तेमाल से काम किया है। आयकर विभाग कक्कड़ परिवार से जुड़ी रही सभी कंपनियों की लिस्ट लेकर जांच करेगा।
इन पर भी हो सकती है जांच
साजन पनिक्कर
बालाजी क्राइनिस सोलर पॉवर, हिंदुस्तान माइंस, राऊ-पीथमपुर इंफ्रास्ट्रक्चर, एनचेंटिंग डेयरीज, होटल्स एंड रिसार्ट्स, बालाजी सिक्यूरिटीज, एनचेंटिंग टेल्स होटल्स, एनचेंटिंग नेटुरा होटल्स में हिस्सेदारी। मिड-वे इंफ्राबुल्स, सुमुख, विंध्यराज वेयरहाउसिंग, कैप्री हास्पिटेलिटी, ऑर्बिट एक्वा मिनरल्स में जुड़े रहे।
हितेंद्र सिंह जादौन
विंध्यराज कंस्ट्रक्शन और पेंको में भागीदार।
गुलाबचंद्र पराशर
शरद बिल्डर्स, मिशु रियल इस्टेट एंड कंस्ट्रक्शन, मानपा प्रोजेक्ट डेवलपर्स, केयरटेक्स इंडस्ट्रियल लांड्रेटी में भी भागीदार।
संदीप कुमार चौरडिय़ा
हिंदुस्तान माइंस, मिड-वे इंफ्राबिल्ड, राऊ-पीथमपुर इंफ्रास्ट्रक्चर में भी भागीदार।
राहुल पराशर
मिराया इंफ्रास्ट्रक्चर, सेफस्पेस वेयरहाउसिंग, मिशु रियल स्टेट एंड कंस्ट्रक्शन, इंपेटस इंफ्रा, प्रिंस डी में भागीदार। हर्ष मार्केटिंग से जुड़े रहे हैं।
शिल्पा पराशर
थर्ड आई डेप्ट मैनेजमेंट, मिराया इंफ्रास्ट्रक्चर, मिशु रियल स्टेट, इंफेटस इंफ्रा में भागीदारी।
मधुर नानेरिया
थर्ड आई डेप्ट मैनेजमेंट, प्रिंस डीसी, जिलिओन एजुकेशन सर्विसेस एंड ट्रेनिंग, कैरियर लीड में भागीदारी।
मीनल सिंह राना
विंध्यराज लीजर एंड पैराडाइज, ऐश्वर्या बिल्डर्स, श्री
कृपा सोल्यूशन, सहयोग इवेंट मैनेजमेंट में हिस्सेदारी। विंध्यराज वेयरहाउसिंग से जुड़़ाव रहा है।
ललित कुमार छलानी
विंध्यराज लीजर एंड पैराडाइज, माइना रियलिटीज, श्रीकृपा सोल्यूशन में हिस्सेदारी। मधु केबल्स एंड कंडक्टर में जुड़ाव रहा।
शरद काले
एवलांच मल्टीट्रेडिंग, डिवाइन बिल्डवेल में भागीदार। शरद बिल्डर्स, डिवाइन टच रियलस्टेट, ईजी रियलस्टेट से जुड़े रहे।
कृष्णकांत गोयल
कंचन वेहिकल्स, डिवाइन बिल्डवेल, एसोसिएशन ऑफ सेल्फ हेल्प एक्शन में भागीदार। शरद बिल्डर्स और सिद्धार्थ इंवेस्टमेंट से जुड़े रहे।
रीना गोयल
कंचन वेहिकल्स में भागीदार। शरद बिल्डर्स और डिवाइन टच रियलस्टेट से जुड़ी रहीं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned