शराब की अंधी कमाई, इंकमटैक्स से छुपाई, सैकड़ों एकड़ जमीन मिली

amit mandloi

Publish: Nov, 14 2017 06:56:19 (IST) | Updated: Nov, 14 2017 07:17:14 (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
शराब की अंधी कमाई, इंकमटैक्स से छुपाई, सैकड़ों एकड़ जमीन मिली

एसोसिएट अल्कोहल के ४० ठिकानों पर आयकर का छापा, ५ करोड़ रुपए नकदी भी

इंदौर. आयकर विभाग की इन्वेस्टिगेशन विंग ने मंगलवार को एसोसिएट एल्कोहल एंड ब्रेवरीज लिमिटेड के देशभर में ४० ठिकानों पर एक साथ छापे की कार्रवाई की। इंदौर में कंपनी के 13 स्थान हैं। इनमें डायरेक्टर्स और प्रमोटर्स के निवास स्थानों पर भी कार्रवाई की गई।

इन्वेस्टिगेशन विंग के मप्र-छग के २५० से अधिक अधिकारी और १५० से अधिक पुलिसकर्मियों की टीमों ने छह राज्यों के ४० ठिकानों पर एक साथ कार्रवाई की। देर शाम तक छापे में तकरीबन सैकड़ों एकड़ जमीन के कागजात और ५ करोड़ रुपए से अधिक की नकदी मिली है। ज्वेलरी का वैल्यूएशन किया जा रहा है। दर्जनों बैंक खातों के दस्तावेज भी मिले हैं।



पांच वर्ष का लाभ और बिक्री
वर्ष २०१७ २०१६ २०१५ २०१४ २०१३
बिक्री २९६.४७ २८७.५२ ३००.१४ २१८.३३ १५९.९०
लाभ ३८.६८ ३३.४६ २६.०८ १६.३७ १०.४५

(राशि करोड़ रुपए में)

 

यह हैं प्रमोटर्स

रामदुलारी केडिया, श्वेता केडिया, संगीता केडिया, प्रसन्न कुमार केडिया, अंशुमान केडिया, भगवती प्रसाद, आनंद कुमार केडिया

यह हैं डायरेक्टर्स
तुषार भंडारी, नितिन टिबरेवाल, आशीष कुमार गदिया, मनीष कुमार टिबरेवाल, दिशिता टिबरेवाल


यह हैं प्रमुख स्थान

रजिस्टर्ड ऑफिस : १०६, ए श्याम बाजार स्ट्रीट कोलकाता
मुख्यालय : 4, फ्लोर बीपीके स्टार, एलआईजी स्क्वेअर, इंदौर
डिस्टलरी : खोदीग्राम पोस्ट बड़वाह, जिला खरगोन


यहां गई टीमें
इंदौर (१३ स्थान), बड़वाह, धार, सतना, कटनी, रीवा, भिलाई, कोलकाता, नोएड, जमशेदपुर के अलावा पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के ४० स्थान शामिल हैं।

-एसोसिएट एल्कोहल एंड ब्रेवरीज लिमिटेड

-देशभर में ४० ठिकानों पर एक साथ छापे की कार्रवाई की।

-इंदौर में कंपनी के 13 स्थान हैं। इनमें डायरेक्टर्स और प्रमोटर्स के निवास स्थानों पर भी कार्रवाई की गई।

-इन्वेस्टिगेशन विंग के मप्र-छग के २५० से अधिक अधिकारी और १५० से अधिक पुलिसकर्मियों की टीमों ने छह राज्यों के ४० ठिकानों पर एक साथ कार्रवाई की।

-देर शाम तक छापे में तकरीबन सैकड़ों एकड़ जमीन के कागजात और ५ करोड़ रुपए से अधिक की नकदी मिली है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned