शहर में 6 अस्पताल और प्रदेश 302 होंगी लांचिंग साइट

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय करेगा निगरानी

 

By: jay dwivedi

Published: 11 Jan 2021, 02:26 AM IST

इंदौर. शहर में कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए कुल 6 लॉचिंग साइट बनाई गई है। वहीं प्रदेश में कुल 302 लॉचिंग साइट होंगी। इन सभी साइट की मॉनिटङ्क्षरग सीधे केंद्र के स्वास्थ्य मंत्रालय से की जाएगी। यहीं से यह देखा जाएगा कि शहर में कितनी वैक्सीन पहुंची और कितने लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। शहर में 6 अस्पतालों में यह साइट बनाई जा चुकी है जिनमें हुकुमचंद पॉली क्लीनिक, एमवाय अस्पताल, बॉम्बे हॉस्पिटल, राजश्री अपोलो, चोइथराम अस्पताल और देपालपुर स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शामिल है। रविवार को उक्त सभी सेंटरों पर स्वास्थ्य विभाग का दल निरीक्षण करने पहुंचा था।

शुक्रवार को शहर के चार अस्पताल हुकुमचंद पॉलीक्लीनिक, एमवाय अस्पताल, हातोद अस्पताल और निजी राजश्री अपोलो अस्पताल में कोरोना वैक्सीन लगाने का ड्राई-रन किया गया था। इस दौरान कोविन पोर्टल पर कनेक्टिविटी और लाभार्थियों को मैसेज न मिलने की परेशानी सामने आई है। इस पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा दोनों ही तकनीकी समस्याओं को लेकर दिशा-निर्देश जारी करना शुरू कर दिया है।

प्रभारी सीएमएचओ डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने बताया कि जिन्हें भी टिके लगाए जाने हैं, उनकी जानकारी पहले से ही कोविन पोर्टल पर ही अपलोड है और वैक्सीन लगवाने के दौरान उक्त पोर्टल पर आगे की जानकारी दर्ज की जाना है। ऐसे में कनेक्टिविटी की समस्या के चलते वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्तियों की जानकारी दर्ज करने में काफी दिक्कतें हुई। ऐसे में हम सभी सेंटरों को यह निर्देश जारी कर रहे हैं कि जहां पर वैक्सीन लगाने का कार्य हो, वहां पर सुलभ इंटरनेट कनेक्टिविटी और वाई-फाई जैसी सुविधा उपलब्ध हो ताकि पोर्टल पर इंट्री में किसी तरह की परेशानी न आए।

jay dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned