स्वच्छता में एक बार फिर नंबर वन बना इंदौर,स्वच्छता आदत में है,स्वच्छता व्यवहार है

केंद्र सरकार ने स्वच्छ भारत रैंकिंग 2018 जारी की है जिसमें इंदौर ने एक बार फिर पहला स्थान हासिल किया है।

इंदौर.केंद्र सरकार ने स्वच्छ भारत रैंकिंग 2018 जारी की है जिसमें इंदौर ने एक बार फिर पहला स्थान हासिल किया है। भोपाल को दोबारा दूसरा स्थान मिला है। तीसरे क्रम पर चंडीगढ़ रहा है। गौरतलब है कि पीएम मोदी की महत्वाकांक्षी योजना स्वच्छ भारत के तहत यह सिटी रैंकिंग जारी की है। आने वाले समय में केंद्र इसमें अपना इनपुट देगा और इन शहरों के डेवलपमेंट पर काम करेगा। इस योजना में 434 शहरों को शामिल किया गया था जिसमें मप्र ने बाजी मारी है।

मंत्री हरदीप सिंह पूरी ने दी जानकारी
केंद्रीय शहरी विकास राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर ये जानकारी दी। मंत्री ने अपने ट्वीट में इंदौर और भोपाल के लोगोंं को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी। पुरी ने ये भी लिखा कि दोनों ही शहरों की जनता ने इस अभियान को जनआंदोलन में बदला और ये सफलता पाई। इसी के साथ ने भी टिटर और फेसबुक पर इन्दोरियों को बधाई देकर धन्यवाद ज्ञापित किया।

पिछले वर्ष था इंदौर का कुछ ऐसा अंक गणित
2000 अंकों के लिए सर्वे किया गया था जिसमें निगम के अपने स्तर पर किए काम को 900 अंक, केंद्र की टीम के मूल्यांकन के 500 अंक और साफ सफाई पर लोगों के फीडबैक के 600 अंक मिले हैं। इस वर्ष इसमें सिटिज़न्स की ओर से भरी गई चार्ट शीट के अंकों को भी जोड़ा गया है और फिर से स्वच्छता में नंबर वन शहर बनकर उभरा है।

इन आधारों पर तय हुई रैकिंग
केंद्र सरकार ने स्वच्छता के लिए इन शहरों में तीन बार सर्वेक्षण करवाया जिसमें प्रदेश का नंबर तीसरे सर्वेक्षण में लग पाया है। सर्वेक्षण में रैकिंग कई स्तरों को ध्यान में रखकर दी गई। जैसे- घर-घर से कचरा संग्रहण, शहर में शौचालयों की स्थिति, ठोस कचरा प्रबंधन, शहर के रहवासियों का सफाई को लेकर आदतों में सुधार के लिए अवेयरनेस प्रोग्राम आदि। इन सभी स्तरों में इंदौर ने दोबारा बेहतर प्रदर्शन किया है। शहरी विकास मंत्रालय द्वारा बनाई गई काउंसिल ने 38 से ज्यादा शहरों में जाकर सड़क , सार्वजनिक स्थलों, मार्केट, रेल्वे लाइन, बस स्टैंड और कॉलोनियों का सर्वे कर अपनी रिपोर्ट पेश की।

स्वच्छ इंदौर को दोबारा नंबर वन बनाने का सपना हुआ साकार
सुबह-सुबह स्वच्छ इंदौर का गाना सुनना अब सबको अच्छा लगेगा, क्येांकि शहरवासियों और नगर निगम कर्मचारियों की मेहनत रंग लाई है। रैकिंग में टॉप 10 में आए शहरों के महापौरों को दिल्ली में सम्मानित भी किया जाएगा। इंदौर की महापौर श्रीमती मालिनी गौड़ और कमिश्रर आशीष सिंह दोनों इस सम्मान समारोह में मौजूद होंगे। महापौर ने अपने फेसबुक वॉल पर एक तस्वीर शेयर करते हुए शहरवासियों को बधाई भी दी है।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned