अवैध कॉलोनी और असुरक्षा से जुझती इंदौर विधानसभा 5

अवैध कॉलोनी और असुरक्षा से जुझती इंदौर विधानसभा 5

amit mandloi | Publish: Oct, 14 2018 12:13:14 PM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

विधानसभा क्षेत्र: इंदौर- 5

इंदौर. पत्रिका समूह के जन एजेंडा 2018-23 के तहत हर विधानसभा क्षेत्र के लोगों, जन संगठनों और समूहों के साथ बैठक कर रोड मैप तैयार किया। चर्चा के आधार पर तय किए क्षेत्र के मुद्दे...

क्या है विजन
रंग रोड और बायपास के बीच नए शहर का विकास, कनेक्टिविटी के लिए फ्लाय ओवर, अवैध बस्तियों की समस्याएं हल करना।

1. बीआरटीएस के बॉटलनेक में एलिवेटेड ब्रिज का निर्माण इस विधान सभा में विकसित और विकासशील इंदौर दोनों हैं। बीआरटीएस का बॉटलनेक इसी विधानसभा मे आता है। यहां पर रोजाना ट्रैफिक जाम लगता है। बड़ी परेशानी गीता भवन, पलासिया, एलआइजी तक होती है। आने वाले समय को देखते हुए यहां पर एलिवेटेड ब्रिज का निर्माण होना।

2. शहरी सीलिंग की जमीन पर अवैध कॉलोनियां का नियमितीकरण शहरी सीलिंग से प्रभावित कई जमीनों पर अवैध कॉलोनियां बस गई हैं। प्रशासन ने कार्रवाई की, लेकिन इनका नियमितीकरण बड़ी चुनौती है।

3. क्षेत्र में दो ही मुक्तिधाम है। तिलक नगर व खजराना। तिलक नगर सघन रहवासी क्षेत्र में होने से सीमित उपयोग के लिए ही उपलब्ध होता है, इसलिए मुक्तिधाम की जरूरत है।

4. विकसित होते इंदौर के इस विकासशील एरिया में ऑडिटोरियम नहीं है, जिसमें सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन हो सकें। एक अत्याधुनिक ऑडिटोरियम की जरूरत है।

5. दूरस्थ विकसित क्षेत्रों में लोक परिवहन उपलब्ध करवाना शहर अब काफी विकसित हो चुका है। रिंग रोड और बायपास के बीच रहवासी क्षेत्र विकसित हो रहे हैं। इनमें लोक परिवहन उपलब्ध करवाना।

6. हॉकर्स जोन का निर्माण पीपल्याहाना क्षेत्र में सोमवारिया बाजार अन्य क्षेत्रों में फल व सब्जियों के ठेले ट्रैफिक को अस्त-व्यस्त करते है , इसलिए पूरे क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर हॉकर्स जोन बनाए जाएं।

7. खेल मैदान शहर में हर विधानसभा की एक बड़ी परेशानी खेल के मैदान नहीं होना है। ५ नंबर में भी मैदान नहीं है। इसलिए एक खेल संकुल की जरूरत है।

8. स्वास्थ्य सेवाओं की कमी दूर करने 300 बेड का हॉस्पिटल स्वास्थ्य सेवाओं की दृष्टि से यहां पर सुविधाओं की कमी है। एमवाय अस्पताल ही विकल्प है। क्षेत्र में 300 बेड का हॉस्पिटल बनना चाहिए।

9. बस्तियों की समस्याएं और सुरक्षा क्षेत्र में चार बड़े बस्ती इलाके हैं। इनमें पंचम की फेल, गोमा की फेल, आजाद नगर, खजराना व मूसाखेड़ी। इनमें शुद्ध पेयजल के साथ ही अतिक्रमण, जल जमाव की समस्या व सुरक्षा के रोडमैप तैयार किए जाए।

10. रिंग रोड की सर्विस रोड का विद्युतीकरण रिंग रोड के आसपास रहवासी क्षेत्रों की सघनता बढऩे से वाहनों की आवाजाही अधिक हो रही है। आधा अधूरा निर्माण और अंधेरा होने से मुश्किल होती है। इसका विद्युतीकरण किया जाए।

हमारा कैंडिडेट कौन हो...
संभावित दावेदार: स्वप्निल कोठारी, डॉ. आनंद राय(चेंजमेकर )
महेन्द्र हार्डिया, अजयसिंह नरूका (भाजपा )
पंकज संघवी, सत्यनारायण पटेल (कांगे्रस)


MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned