बीएससी छात्र ने बनाया गिरोह, करने लगा ये वारदात

बाणगंगा पुलिस ने पकड़ा, पत्नी व साथी महिला पहले गिरफ्तार हो चुके

By: Chintan

Published: 03 Mar 2019, 12:50 AM IST

इंदौर. बाणगंगा पुलिस ने बीएससी के छात्र को पकड़ा है। उसने साथियों के साथ इलाके में कई चोरी की घटनाएं की है। उसकी निशादेही पर पुलिस ने साढ़े सात लाख रुपए का माल भी बरामद किया है। गिरोह के पांच लोगो अभी भी फरार है। दो महिलाओं को कुछ दिन पहले पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। एएसपी प्रशांत चौबे ने बताया, बाणगंगा पुलिस ने रंजीत अलावा (25) निवासी टांडा, धार को गिरफ्तार किया।
टीआई इंद्रमणि पटेल व उनकी टीम ने उससे पूछताछ की तो श्रीराम एवेन्यू में डॉ. प्रदीप शर्मा के घर से २५ अगस्त २०१८ को चोरी किए गए सोने-चांदी के जेवर, नकदी 2 लाख 86 हजार रुपए उससे जब्त हुए। इसी तरह अन्य जगह से चोरी किए 2 टीवी, 2 डिजीटल कैमरे, 8 मोबाइल, एक लैपटॉल, एक टेबलेट भी जब्त हुए है। आरोपी से साढ़े सात लाख रुपए का माल पुलिस ने जब्त किया है। रंजीत उज्जैन के विक्रम विश्वविद्यालय में बीएसपी फाइनल वर्ष का छात्र है। रुपए की जरुरत व ऐश मौज की जिंदगी जीने के लिए वह चोरी करने लगा। उसकी पत्नी राधाबाई उर्फ शारदा अलावा (23), साथी ऐलबाई अलावा (19) को 20 फरवरी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। तब रंजीत व पांच और लोगो के नाम पुलिस को पता चले। दोनो महिलाए अभी जेल में है। धार से ये लोग चोरी के लिए इंदौर आते। पढ़ाई के लिए रंजीत उज्जैन अपडाउन करता। दिन में ये लोग टोली बनाकर कॉलोनी में घूमते। सूने घर की रैकी कर रात में वहां वारदात करते।
डॉ. प्रदीप शर्मा के घर जिस दिन चोरी की तब एक और घर की रैकी इन्होंने की थी। वहां पर गुजरात का युवक अकेला रहता है। वह दिन में नौकरी पर गया था। रात में वह घर आ गया। उसके घर का दरवाजा जब आरोपियों ने तोडऩे की कोशिश की तो आवाज सुनकर वह उठ गया। उसने लाइट जलाई व शोर मचाया तो आरोपी भाग निकले। पुलिस ने रंजीत को रिमांड पर लिया है। उससे चोरी की अन्य वारदात व साथियों के बारें में पुलिस जानकारी ले रही है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned