गश्त में क्राइम ब्रांच ने रोका तो निकला फरार आरोपित

गश्त में क्राइम ब्रांच ने रोका तो निकला फरार आरोपित

Chintan Vijayvargiya | Publish: Jun, 14 2018 08:43:09 PM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

देवास से एक महीने से फरार था, पुलिस ने रोका तो गलत जानकारी दी

इंदौर. मंगेतर से ज्यादती कर फरार हुए युवक को क्राइम ब्रांच की टीम ने गश्त में पकड़ा। पहले वह गलत नाम व पता बताकर बचने की कोशिश करने लगा। जेब में मिले आइडी कार्ड से पहचान हुई तो पता चला वह देवास से फरार है। मंगेतर से ज्यादती के बाद उसने शादी से इनकार कर दिया था। एएसपी क्राइम अमरेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि क्राइम ब्रांच की टीम रात में प्रमुख जगहो पर गश्त करती है।
बुधवार रात विजय नगर इलाके में एक युवक को टीम ने रोका व पूछताछ की। वह जानकारी देने में हड़बड़ा रहा था। उसने अपना नाम व पता गलत बताया। उसकी तलाशी लेने पर जेब में आइडी कार्ड मिला। इस पर ओमप्रकाश विश्वकर्मा निवासी देवास लिखा था। देवास पुलिस से जब क्राइम ब्रांच ने संपर्क किया तो पता चला कि ओमप्रकाश पर कोतवाली थाने में बलात्कार का केस दर्ज है। जिसमें वह फरार है। इस पर ओमप्रकाश को हिरासत में लिया। देवास पुलिस की टीम उसे क्राइम ब्रांच से ले गई। ओमप्रकाश की पहली पत्नी की मौत हो चुकी है। पेशे से वह इलेक्ट्रीशियन है। दो महीने पहले उसने युवती से सगाई की। देवास के एक होटल में ले जाकर जबरन संबंध बनाए। युवती ने विरोध किया तो धमकाते हुए सगाई तोड़ देने की धौंस देने लगा।
बाद में युवती को राजौदा में बहन के घर छोडक़र चला गया। युवती ने जब शादी के लिए फोन लगाया तो उसने मना कर दिया। वह कहने लगा कि किसी और से शादी करेगा। इसी के बाद युवती ने मामले की शिकायत पुलिस से की। फरारी के दौरान वह अपने दोस्तो व रिश्तेदारों के पास रहा। वह मूल रूप से खुड़ैल के ग्राम मुंडला का रहने वाला है। बुधवार रात ही वह रतलाम से इंदौर पहुंचा था। विजय नगर में देवास जाने के लिए गाड़ी का इंतजार कर रहा था।

Ad Block is Banned