लेनदारो की धमकी से परेशान होकर जीएसआईटी के प्यून ने लगाई फांसी

हीरा नगर इलाके का मामला, सुसाइड नोट में लिखा चाकू व रिवाल्वर दिखा धमकाते

By: Chintan

Published: 03 Jan 2020, 11:35 AM IST

इंदौर. जीएसआईटी कॉलेज में प्यून ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। स्कूल से लौटे आठ साल के बेटे ने जब पिता को फांसी पर लटके देखा तो वह चिल्लाने लगा। आसपास के लोग उसे एमवाय अस्पताल ले गए लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। लेनदारो से परेशान होकर आत्महत्या की बात सुसाइड नोट में सामने आई है।

हीरा नगर इलाके में लवकुश आवास विहार निवासी विनोद (40) पिता मूलचंद्र लोधवाल ने गुरुवार दोपहर घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। विनोद जीएसआईटीएस कॉलेज में प्यून था। गुरुवार को वह कॉलेज भी नहीं गया। परिवार में माता-पिता, पत्नी, एक बेटा व बेटी है। विनोद के पिता को आंखो से नहीं दिखता है। गुरुवार को पत्नी संगीता, बेटी प्रियंाशी के साथ अपने मायके गई थी। शाम को जब बेटा जयंत (8) स्कूल से लौटा तो उसने पिता को फांसी पर देखा। यह देखकर वह काफी घबरा गया। वह जोर-जोर से चिल्लाने लगा तो आसपास के लोग आ गए। उन्होंने विनोद को फंदे से उतारा। जांचकर्ता एसआई कमल ङ्क्षसह रघुवंशी ने बताया कि विनोद के पास से एक सुसाइड नोट मिला। उसमें विनोद ने लिखा कि चार सूदखोर मुझे चाकू व रिवाल्वर दिखाकर धमकाते है। बोलते है तेरे बच्चें व परिवार को मार देंगे। मैने इन्हें पैसा व संपत्ति दे दी है। फिर भी मुझे नौकरी पर आकर धमकाते है। धमकी दी है कि एक-दो दिन में पैसा नहीं दिया तो मार डालेंगे। में इन्हें पूरा पैसा दे चुका हूं, अब मेरे पास पैसा नहीं है। कॉलेज में भी सूदखोर है। जो कमजोर लोगो को पैसा देते है, षडयंत्र रचते है, इनसे पीडि़त 25 कर्मचारी है। यदि इनसे पूछा जाए तो बताएंगे कि कैसे मुझे व अन्य को परेशान किया जाता है। एसपी व डीआईजी अगर कार्रवाई करेंगे तो कई अन्य दुखी कर्मचारियों को राहत मिलेंगी। इसलिए में यह पत्र लिख रहा हूं। मेरा पूरा जीवन ब्याज में ही चला गया। धमकाने वालों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाना चाहिए। शुक्रवार को विनोद का पोस्टमॉर्टम होगा। घटना के चलते परिवार गमगीन था तो बयान नहीं हो पाए। हीरा नगर पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु की है।

कॉलेज में आकर धमकाते थे चार लोग

विनोद के साले सुशील ने बताया कि रुपए उधार क्यों लिए इसका पता नहीं। पहले परिवार परदेशीपुरा के अपने मकान में रहता था। वह भी बेचकर जो रुपए आए वह लेनदारो ने ले लिए। काफी समय से घर आकर लेनदार परेशान कर रहे थे। घटना की जानकारी पर कॉलेज के लोग भी घर आए थे। उन्होंने बताया कि वर्मा नामक एक व्यक्ति है जो धमकाता है। वे लोग पुलिस को भी बयान देंगे। पत्नी संगीता अभी बेसुध है तो बता नहीं पा रही कि कौन लोग धमकाते रहे है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned