इंदौर : नाले में दो युवक बहे, एक को बचाया, दूसरा लापता

इंदौर : नाले में दो युवक बहे, एक को बचाया, दूसरा लापता
इंदौर : नाले में दो युवक बहे, एक को बचाया, दूसरा लापता

Manish Yadav | Updated: 13 Sep 2019, 11:42:18 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

गौतमपुरा के ग्राम चांदनखेड़ी निवासी दो युवक नाला पार करते हुए बह गए। लगातार हो रही बारिश के चलते पुलिस और रेस्क्यू टीम को भी रास्ता ढूंढऩा पड़ा। ग्रामीणों ने अपने स्तर पर उसकी खोज शुरू कर दी।


इंदौर। गौतमपुरा के ग्राम चांदनखेड़ी निवासी दो युवक नाला पार करते हुए बह गए। बताया जाता है कि दोनों दूध बांटने के लिए दूसरी तरफ आ रहे थे। रास्ते में रपट पर पानी में दोनों बह गए। एक युवक को तो आसपास के लोगों ने बचा लिया, लेकिन दूसरे का पता नहीं चल पाया है। लगातार हो रही बारिश के चलते पुलिस और रेस्क्यू टीम को भी रास्ता ढूंढऩा पड़ा। ग्रामीणों ने अपने स्तर पर उसकी खोज शुरू कर दी।
पुलिस के अनुसार हादसा गुरुवार शाम को 4:30 बजे के आसपास हुआ। ग्राम चांदनखेड़ी निवासी दो युवक भूरा पिता बाबू (२४) व आशिक पटेल का दूध का काम काजकाज है। वे अपने खेत पर बने मकान से दूध लेकर नाले के पास आ रहे थे। टीआई मनीष डावर ने बताया कि वह गाड़ी से नाले की चले। रपट पर पानी था। दोनों ने अपनी बाइक को एक तरफ खड़ा किया और पैदल ही दूध की केन लेकर दूसरी तरफ निकले। रास्ते में पानी का बहाव तेज था। इसके चलते दोनों ही पानी में बह गए। आसपास खड़े ग्रामीण फौरन मदद के लिए आए और उनमें से एक युवक आशिक को बचा लिया, लेकिन भूरा को बचा नहीं पाए। वह पानी के अंदर एक बार गया तो वापस बाहर नहीं निकला। ग्रामीणों ने अपने स्तर पर उसकी खोजबीन शुरू की, लेकिन कुछ भी पता नहीं चल पाया। इस पर पुलिस और प्रशासनिक अफसरों को सूचना दी।
टापू बन गया गांव
टीआई के मुतााबिक सूचना पर पुलिस का दल भी घटनास्थल के लिए रवाना हो गया था। गांव के आसपास काफी पानी था। पुलिया से भी इतना पानी जा रहा था कि उसे पार करना मुमकिन नहीं था। वहीं अंधेरा होने कारण रात में रेस्क्यू ऑपरेशन नहीं किया गया। रात में एक बार फिर से जोरदार पानी गिरने से हालात और भी खराब हो गए हैं। पानी उतरने का इंतजार किया गया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। इंदौर से एक टीम को बुलाया गया है। टीम रवाना हुई है। वह अपने स्तर पर खोजबीन शुरू करेंगे।
सुबह से ही ग्रामीण लग गए खोज में- आसपास पानी होने के कारण बाहर से मदद नहीं आ पा रही थी। इसके चलते ग्रामीणों ने अपने स्तर पर भूरा की खोज की। सुबह उजाला होते ही ग्रामीण रस्सी बांधकर नाले में उतर गए। वह भूरा के आसपास के इलाके में खोज कर रहे हैं। पानी का बहाव तेज होने से दूर चले जाने की भी आशंका व्यक्त की जा रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned