वीडियो में देखिए DIG के सामने ASP को जीतू पटवारी ने कैसे दी 'धमकी'

पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए कांग्रेसियों ने पुलिस कंट्रोल रुम में दिया धरना, डीआईजी के सामने ASP से बोले विधायक जीतू पटवारी- आप मेरे रडार पर आ रहे हो..

By: Shailendra Sharma

Updated: 28 Oct 2020, 06:32 PM IST

इंदौर. मध्यप्रदेश उपचुनाव की हाईप्रोफाइल सीट सांवेर में चुनावी माहौल किस कदर गर्माया हुआ है इसकी बानगी बुधवार को इंदौर के पुलिस कंट्रोल रुम में देखने के लिए मिली। यहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विधायक जीतू पटवारी और कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्डू के साथ मिलकर धरना प्रदर्शन किया और पुलिस पर राजनैतिक दबाव में एकपक्षीय कार्रवाई करने का आरोप लगाया। धरना प्रदर्शन के दौरान विधायक जीतू पटवारी की ASP राजेश रघुवंशी से तीखी नोक-झोंक हुई जिसके बाद पटवारी ने डीआईजी के सामने ही ASP को अलग अंदाज में धमकी तक दे डाली।

देखें वीडियो-

 

गलत बात मत करो, आप मेरे रडार पर हो- जीतू पटवारी
कंट्रोल रूम में धरना प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि पुलिस जानबूझकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को टारगेट कर रही है और उनपर झूठे मामले दर्ज किए जा रहे हैं। कांग्रेस नेता बबलू यादव का उदाहरण देते हुए जीतू पटवारी ने कहा कि तीन दिन पहले बबलू यादव पर साधारण धक्कामुक्की का केस दर्ज किया गया था और अब उस पर धारा 307 लगा दी गई है। कांग्रेस के इस आरोप पर एएसपी राजेश रघुवंशी ने जब अपनी बात रखने की कोशिश की तो पटवारी ने कहा कि गलत बात मत करो आप मेरे रडार पर आ रहे हो और गलत करने वालों को तो मैं सस्पेंड करवाकर ही रहूंगा। इस दौरान मौके पर डीआईजी भी मौजूद थे।

 

पुलिस की कार्यप्रणाली पर पटवारी ने उठाए सवाल
धरना प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने एक तस्वीर दिखाई और घटना के बारे में बताते हुए कहा कि शराब पीकर एक शख्स ने दूसरी गाड़ी को टक्कर मार दी। हादसे के कारण सड़क पर जाम लग गया और जब कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शराबी ड्राइवर को गाड़ी साइड में करने के लिए कहा तो वो गालियां देने लगा। इतने में ही सादी वर्दी में एक पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचा और खुद को लसुड़िया थाने का टीआई बताया क्योंकि लोग टीआई को पहचानते थे तो उन्होंने उसे धक्का देकर साइड में कर दिया। इस घटना के बाद पुलिस ने धक्कामुक्की की धाराएं लगाकर तीन लोगों को हिरासत में ले लिया जिन्हें बाद में जमानत पर रिहा भी कर दिया गया लेकिन दो दिन बाद उन पर 307 की धारा लगा दी गई और फिर से गिरफ्तार कर लिया गया। पटवारी ने दावा करते हुए कहा कि मेरे पास रिकॉर्डिंग हैं कि किस तरह से बीजेपी के नेता अब उन लोगों पर बीजेपी ज्वाइन करने का दबाव बना रहे हैं और कह रहे हैं कि बीजेपी ज्वाइन कर लो सब मामले निपट जाएंगे। बीजेपी नेता के फोन आने के कुछ ही देर बाद पुलिस उनके घर पहुंच जाती है और उन्हें फिर से गिरफ्तार कर लेती है। आप कांग्रेसियों को मूर्ख समझते हो। पूरी रिकॉर्डिंग है मेरे पास, जिसने हरकत की है उसे सस्पेंड करवाऊंगा। इतना ही नहीं जीतू पटवारी ने मांग करते हुए पुलिस अधिकारियों से ये भी कहा कि अगर पुलिसकर्मी निष्पक्ष रूप से काम कर रहे हैं तो मीडिया के सामने सबूत लाकर दिखाएं और अगर पुलिस ऐसा करती है तो वो लेट कर पुलिस के पैर पड़ेगें।

by poll election in madhya pradesh 2020
Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned