बलात्कार पीडि़ता की आत्महत्या की जांच करेगी एसआइटी

बलात्कार पीडि़ता की आत्महत्या की जांच करेगी एसआइटी

Lakhan Sharma | Publish: Sep, 11 2018 10:58:02 AM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

- पत्रकार की मौत से जुड़ा मामला, बलात्कार के आरोपितों से फिर होगी पुछताछ


लखन शर्मा, इंदौर।

4 दिन पहले हीरा नगर थाना क्षेत्र में रेलवे ट्रेक पर मिली पत्रकार अजय जायसवाल की मौत की जांच एसआइटी कर रही है। इस मामले में संदिग्ध बलात्कार पीडि़ता ने भी कल आत्महत्या कर ली। एसे में अब पूर्व में बनी एसआइटी ही इस मामले की भी जांच करेगी। उधर महिला ने जिन लोगों पर बलात्कार का आरोप लगाया है, उनमें से मुख्य सरगना राजा संाखला को भी पुलिस रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है। राजा सांखला इन दिनों रासुका के तहत भोपाल जेल में बंद है। उस पर लगभग १५ प्रकरण दर्ज हैं और पश्चिम क्षेत्र के कुख्यात गुंडे मनोज परमार का खास गुर्गा है। पुलिस को जानकारी मिली है की राजा संाखला महिला के माध्यम से कई रसुखदारों की अश्लील वीडियोक्लिप बनवा चुका था और कई से मोटी रकम वसुल चुका था। एसे में राजा को पुलिस रिमांड पर लेकर फिर से पुछताछ करेगी। जिससे कई राज सामने आ सकते हैं, क्योंकि इस प्रकरण के बाद दो मौतें हो चुकी है। जिसमें अजय जायसवाल की आत्महत्या प्रथम दृष्टया हत्या लग रही है। कल महिला ने भी सुसाइड नोट में खुद को उसकी मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया।

- सुसाइड नोट की होगी जांच
पीडि़ता ने कल जो सुसाइड नोट छोड़ा है उसमें बलात्कार के चार आरोपितों में से एक लाखन पटेल का बचाव किया है और लिखा है की उससे उसके व्यक्तिगत संबध थे। बता दें की लाखन पटेल और महिला का अश्लील वीडियो भी पुलिस के हाथ लगा है, जिसकी पुलिस जांच कर ही रही थी। इधर पीडि़ता ने करीब एक माह पहले जो बलात्कार की रिपोर्ट एरोड्रम थाने में दर्ज कराइ थी। इसमें पहले वीरेंद्र गुप्ता कॉलोनीनाइजर के नाम का आवेदन पुलिस को देने के लिए बनाया था। लेकिन महिला ने उस आवेदन पर हस्ताक्षर नहीं किए। इसके बाद महिला ने नया आवेदन दिया जिसमें लाखन पटेल, राजा संाखला, नितिन यादव जानू और सुनील के खिलाफ बलात्कार का प्रकरण दर्ज हुआ था। इधर पुलिस ने राजा सांखला को छोडक़र सभी को पेश कर दिया और राजा पर रासुका लगाने की तैयारी थी तब भी कई रसुखदारों ने पुलिस पर दबाव बनाया था। दरअसल लाखन पटेल और वीरेंद्र गुप्ता के बीच रूपयों का लेनदेन होना था उसमें महिला व आरोपित इनसे रूपयों की मांग कर रहे थे। सुसाइड नोट की राईटिंग की भी जांच करवाई जाएगी। उधर महिला ने इसमें फिर वीरेंद्र का जिक्र किया है और पति और बच्चो की देखरेख इसे ही करने का कहा है।

- ब्लेकमेलिंग के मामले में बढ़ेंगे आरोपी
उधर अब पहले बलात्कार और फिर बाद में दो मौत के बाद मामला संदिग्ध हो चुका है। जिसके तहत अब इसके हर पहलु की बारीकी से जांच की जाएगी। जिसमें महिला की कॉल डिटेल, पत्रकार अजय जायवाल की कॉल डिटेल सहित आरोपितों की कॉल डिटेल भी निकाली जाएगी। पुलिस की जांच में सामने आया है की ये लोग पहले भी कई लोगों की अश्लील सीडी उक्त महिला के साथ बनाकर ब्लेकमेल कर चुके हैं। इसमें कई बड़े कारोबारी भी शामिल है। उधर दो पत्रकारों की भूमिका भी इसमें संदिग्ध नजर आ रही है, जिनका नाम राजा संाखला ने पुलिस को बताया था। जल्द ही पुलिस पुछताछ के लिए उन्हे भी बुलाएगी। दरअसल लंबे समय से यह एक बड़ा रैकेट चला रहे थे जो उक्त महिला का इस्तमाल कर अश्लील वीडियो बनाते थे और लोगों को ब्लेकमेल करते थे। एसे में अब इसमें ब्लेकमेलिंग केस के कई आरोपी और पीडि़त सामने आ सकते हैं।

- हर पहलु की होगी जांच
मामले में जंाच अधिकारी और एडिशनल एसपी मनीष खत्री ने बताया की पहले मामला सिर्फ बलात्कार और ब्लेकमेलिंग का था, लेकिन अब इसमें दो मौतें हो चुकी है। इसके चलते इसके हर पहलु की बारीकी से जांच की जाएगी। अजय की मौत के लिए उसके परिजन जिस महिला को जिम्मेदार बता रहे थे उसी ने जान दे दी। एसे में मामला और बढ़ा हो गया जिसके चलते कॉल डिटेल से लेकर परिजनों औरक ई लोगों से इसमें पुछताछ की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned