ज्वेलरी में बढ़ेगी 60 फीसदी तक डिमांड

Rajendra Garg

Publish: Apr, 17 2018 11:29:34 AM (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
ज्वेलरी में बढ़ेगी 60 फीसदी तक डिमांड

ज्वेलरी में बढ़ेगी 60 फीसदी तक डिमांड

इंदौर द्य दीपावली के बाद खरीदी के सबसे बड़े मुहूर्त अक्षय तृतीया को लेकर ज्वेलरी की डिमांड में 60 फीसदी तक इजाफे के आसार है। यूं तो इसकी तैयारियां बीते 15 दिनों से चल रही थी। इस बार गोल्ड में लाइटवेट ज्वेलरी में ढ़ेरों वैरायटी आई है जो खास डिस्काउंट के साथ सेल होगी।
अक्षय तृतीया अबूझ मुहूर्त होता है। इस दिन सबसे ज्यादा शादियां होती है। कारोबारियों ने बताया कि इस बार ग्रामीण क्षेत्रों से जोरदार डिमांड रह सकती है। इसके लिए दोनों तरह की ज्वेलरी तैयार की गई है। गांवों में जहां ठोस ज्वेलरी पसंद की जाती है वहीं शहरी इलाकों में लाइटवेट और उसमें भी खासतौर पर डायमंड या क्रिस्टल वाली ज्वेलरी सबसे ज्यादा सेल होती है। इस बार एक ग्राम से तीन ग्राम में चूडिय़ों के साथ शगुन के लिए16-18 कैरेट में मंगलसूत्र भी तैयार किए गए हैं इसके अलावा टीका, नथ, अंगूठी के साथ कान के टाप्स भी है। प्राइज रेंज कम होने से ग्राहकों में खरीदी को लेकर उत्साह देखा जा रहा है।
कस्टमरों को मिल रहे हैं डिस्काउंट
अक्षय तृतीया के लिए शहर में कई तरह के डिस्काउंट चल रहे हैं। कुछ संस्थान तो कैरेट के हिसाब से ज्वेलरी की कीमत फिक्स कर रहे हैं तो कुछ ने मेकिंग चार्ज में कमी कर दी है। बताया गया कि मेकिंग चार्ज में छूट का सिलसिला बीते एक सप्ताह से चल रहा है इसके कारण ऑर्डरों में काफी सुधार आया है।
जेन्ट्स को लुभा रही है अंगूठियां
कारोबारियों ने बताया कि अक्षय तृतीया के अवसर पर सोने की खरीदी लाभदायक मानी जाती है। इसके लिए इस बार डिजाइनर अंगूठियां खूब तैयार की गई है। इनकी रेंज किफायती है। इसके साथ 6 से 10 ग्राम में गोल्ड चेन भी है।
मोती वाले मंगलसूत्र
इस दौरान बहुत ज्यादा सामूहिक विवाह जैसे आयोजन होते हैं इनके लिए मोती वाले मंगलसूत्र आए हैं जिनकी प्राइज रेंज कम है। इसके अलावा ठोस गोल्ड यानी 24 कैरेट में जड़ाऊ हार तो हाथों के कंगन है जो अधिकांशतया बड़े शोरूमों में सेल हो रहे हैं।

Ad Block is Banned