सीएए पर सिंधिया का जवाब... 'विद्या के मंदिर में राजनीति की बातें नहीं होना चाहिए '

डेली कॉलेज प्रेसिडेंट इलेवन और एमपीसीए इलेवन के बीच इस दौरान एक फ्रेंडली मैच भी हुआ, जिसमें ज्योतिरादित्य के साथ ही ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने भी बल्लेबाजी की।

इंदौर. एक ओर जहां कांग्रेस और भाजपा नेता नागरिकता संशोधन कानून पर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं, वहीं रविवार को इंदौर आए कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया इस पर किसी भी तरह की बात करने से बचते नजर आए। डेली कॉलेज में १९१० में उनके परदादा महाराजा माधवराव सिंधिया द्वारा बनवाई गई पवेलियन के जीर्णोद्धार के बाद दोबारा उसके लोकापर्ण कार्यक्रम में शामिल होने आए ज्योतिरादित्य ने यह कहते हुए सीएए पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया कि जीवन में कुछ उसूल होना चाहिए। शैक्षणिक संस्था यानी विद्या के मंदिर में राजनीति की बातें नहीं होना चाहिए। वहीं, इसके पहले डेली कॉलेज प्रेसिडेंट इलेवन और एमपीसीए इलेवन के बीच इस दौरान एक फ्रेंडली मैच भी हुआ, जिसमें ज्योतिरादित्य के साथ ही ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने भी बल्लेबाजी की।

राजनीति में खेल भावना जरूरी
इसके पहले सिंधिया ने डेली कॉलेज में हुए इस कार्यक्रम में मंत्री प्रियव्रत सिंह की मौजूदगी में एक बार फिर कहा, खेल में राजनीति नहीं होना चाहिए, लेकिन राजनीति में जरूर खेल भावना होना चाहिए। गौरतलब है कि मंत्री सिंह पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह के रिश्तेदार हैं और दिग्विजय और सिंधिया में तल्खियां आए दिन सामने आती रहती हैं।

BJP CAA Congress
Show More
shatrughan gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned