'भाई' के बाद अब 'ताई' के घर डिनर करेंगे ज्योतिरादित्य सिंधिया, दो गुटों को साधने की कोशिश

भाजपा का दामन थामने के बाद सिंधिया कुछ बदले-बदले नजर आ रहे हैं।

By: Pawan Tiwari

Published: 07 Feb 2021, 11:08 AM IST

इंदौर. कांग्रेस का दामन छोड़ भाजपा में गए पूर्व केंद्रीय मंत्री और राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया रविवार (आज) को इंदौर आ रहे हैं। मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (एमपीसीए) की वार्षिक साधारण सभा (एजीएम) और पुरस्कार वितरण समारोह में शिरकत करने आ रहे सिंधिया की इस दौरे में एक बार फिर डिनर पॉलीटिक्स देखने को मिलेगी। भाजपा का दामन थामने के बाद सिंधिया कुछ बदले-बदले नजर आ रहे हैं।

पिछली बार सिंधिया इंदौर आए थे तो वह पार्टी के अन्य बड़े नेताओं के साथ भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के घर डिनर करने गए थे, इस बार सिंधिया पूर्व लोक सभा स्पीकर सुमित्रा महाजन के घर रात का खाना खाएंगे। क्रिकेट की राजनीति में कैलाश से तगड़ी अदावत के बावजूद वे उनके घर पहुंचे थे। हालांकि स्वागत करने के लिए विजयवर्गीय घर पर नहीं थे।

उनके विधायक बेटे आकाश और परिजनों ने सिंधिया का स्वागत किया था। इस बार सिंधिया का ताई के घर होने वाली डिनर को लेकर राजनीति गलियारों में काफी चर्चा है। इस डिनर के माध्यम से सिंधिया शहर में भाजपा के दोनों बड़े गुटों (ताई-भाई) को साधने का प्रयास करेंगे।

नगरीय निकाय चुनावों पर फोकस
ज्योतिरादित्य सिंधिया, ताई औऱ कैलाश विजयवर्गीय के समेत पार्टी का फोकस इन दिनों नगरीय निकाय चुनाव को लेकर भी है। मध्य प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव की हलचल तेज हैं। टिकट के दावेदार सक्रिय हैं। इंदौर में मेयर का पद का उम्मीदवार कौन होगा ये फैसला पार्टी को करना है लेकिन यहां कैलाश विजयवर्गीय और सुनित्रा महाजन का दबदबा है। ऐसे में सिंधिया अब दोनों गुटों के नेताओं के साथ संपर्क साध रहे हैं।

इंदौर में भी सिंधिया का दखल
ग्वालियर-टंबल अंचलके बाद इंदौर ही वो क्षेत्र है जहां ज्योतिरादित्य सिंधिया का दखल है। ऐसे सिंधिया इस क्षेत्र में भी अपना दबदबा बढ़ाना चाहते हैं। इस दौरे से पहले भी सिंधिया भाजपा में शामिल होने के बाद जब इंदौर आए थे तो उन्होंने कई नेताओं से मुलाकात की थी।

Jyotiraditya Scindia
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned