रात 3 बजे व्यापारी का किया अपहरण, सुबह मिली सिर कुचली लाश

रात 3 बजे व्यापारी का किया अपहरण, सुबह मिली सिर कुचली लाश

Hussain Ali | Updated: 24 Apr 2019, 11:09:34 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

रात 3 बजे व्यापारी का किया अपहरण, सुबह मिली सिर कुचली लाश

इंदौर. धार जिले के राजगढ़ से देर रात 3 बजे अपहृत व्यापारी की सिर कुचली लाश मंगलवार सुबह शिप्रा क्षेत्र की हतुनिया पहाड़ी पर मिली। संदेह है कि व्यावसायिक रंजिश के चलते भतीजे ने ही साथियों के साथ मिलकर व्यापारी की हत्या की है।

शिप्रा टीआई मोहन जाट के मुताबिक क्षेत्र की हतुनिया पहाड़ी पर सिर कुचली लाश मिलने की सूचना पेट्रोल पंप कर्मचारी राकेश ने सुबह 10 बजे डॉयल 100 पर दी। जांच के दौरान शव के पास से मोबाइल, आधार कार्ड मिला। इसी आधार पर पहचान गंगाराम (52) पिता सोमलाल चौहान निवासी महापुरा, थाना राजगढ़, धार के रूप में हुई। आधार कार्ड मिलने पर तत्काल राजगढ़ टीआई से फोन पर संपर्क किया गया। उन्होंने बताया कि गंगाराम का सोमवार रात तीन बजे उनके भतीजे अमर सिंह लालू निवासी महापुरा व अन्य ने अपहरण कर लिया था। आरोपियों ने उनकी पत्नी से भी मारपीट की। थाने में अपहरण का केस पंजीबद्ध किया है। शव के पास खून से सना बड़ा पत्थर मिला है, जिसे देख प्रतीत हो रहा है कि मृतक की पहचान छुपाने के लिए बड़े पत्थर से हमलावर ने उनका सिर कुचल दिया है। एेसा प्रतीत हो रहा है कहीं अन्य स्थान पर हत्या करने के बाद हमलावर ने लाश को हतूनिया पहाड़ी व उसकी खदान के समीप ठिकाने लगाया गया है।

रंजिश की वजह पशु व्यापार की होड़

गंगाराम पशुओं का व्यापार करते थे। संभवत: व्यापार में रंजिश के चलते हत्याकांड हुआ है। केस दर्ज अग्रिम कार्रवाई के लिए राजगढ़ थाना रैफर किया गया है। एफएसएल अधिकारी बीएल मंडलोई का कहना है करीब चार से पांच किलो वजनी पत्थर से मृतक के सिर पर वार किया है। मृतक की धोती व अन्य जगहों पर खून के निशान देख लगा रहा है कि मृतक से हमलावर ने कहीं अन्य जगह पर मारपीट की होगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned