नगर निगम अधिकारी को बैट से पीटने वाले विधायक की रिहाई पर पुलिसवालों ने खाएं लड्डू

नगर निगम अधिकारी को बैट से पीटने वाले विधायक की रिहाई पर पुलिसवालों ने खाएं लड्डू

Muneshwar Kumar | Updated: 30 Jun 2019, 01:03:12 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India


आकाश विजयवर्गीय के आवास के बाहर पुलिसवालों ने भी खाए लड्डू, तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल

इंदौर. नगर निगम अधिकारी की बैट से पिटाई करने वाले विधायक आकाश विजयवर्गीय ( akash vijayvargiya bail ) की रिहाई हो गई। विधायक की रिहाई की खुशी में उनके समर्थक जश्न मना रहे हैं। इस खुशी में इंदौर में विधायक समर्थकों ( akash vijayvargiya home ) ने लड्डू बांटे। पुलिस के अधिकारी ( policeman eat sweets ) भी जश्न की खुशी में शरीक होकर लड्डू खाए।

 

लड्डू खा रहे लोगों में पुलिस के अधिकारी भी दिख रहे हैं। अब तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई हैं। जिसमें कई पुलिस अधिकारी आकाश विजयवर्गीय के समर्थकों द्वारा दिए गए मिठाई खा रहे हैं। यही नहीं जेल से बाहर आते आकाश के समर्थकों ने खूब खुशी मनाई। वहीं, विधायक ने कहा है कि फिर से यह नौबत नहीं आए।

इसे भी पढ़ें: जमानत मिलने की खुशी में समर्थकों ने की थी फायरिंग, रिहाई के बाद आकाश ने कहा- दोबारा बल्लेबाजी का मौका ना मिले

 

फायरिंग भी की
बल्लामार विधायक को भोपाल सेशन कोर्ट से जमानत मिलते ही उनके समर्थक उन्हें नायक बनाने में जुटे थे। इंदौर में बीजेपी कार्यालय के बाहर बीजेपी नेताओं ने आकाश की रिहाई की खुशी में फायरिंग की। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल है। वहीं, आकाश के जेल जाने के बाद भी उनके समर्थकों ने इंदौर शहर में आकाश विजयवर्गीय को सलाम करते हुए पोस्टर लगाए थे।

इसे भी पढ़ें: रिहा हुए भाजपा के 'बल्लामार' विधायक आकाश विजयवर्गीय, कहा- जेल में समय अच्छा बीता

 

क्या था मामला
दरअसल, आकाश विजयवर्गीय ने इंदौर में जर्जर मकान को गिराने आए नगर निगम अधिकारियों के साथ मारपीट की थी। निगम अधिकारी को आकाश ने बल्ले से पिटाई की थी। इसके साथ ही उनके ऊपर लात-घूंसे भी बरसाए थे। निगम अधिकारियों के द्वारा एफआईआर के बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। बाद में भोपाल सेशन कोर्ट से शनिवार को आकाश विजयवर्गीय को जमानत मिल गई।

 

मारपीट को सही ठहराते रहे आकाश
वहीं, निगम अधिकारियों के साथ मारपीट की घटना पर आकाश विजयवर्गीय को अफसोस नहीं है। वे निगम अधिकारियों की पिटाई को सही ठहरा रहे हैं। आकाश विजयवर्गीय का इसके पीछे तर्क है कि निगम के अधिकारी महिला के साथ बदसलूकी कर रहे थे। इसी वजह से पिटाई की है।

इसे भी पढ़ें: निगम अफसरों को मारने लिस्टेड गुंडों की फौज लेकर गए थे विधायक आकाश विजयवर्गीय

 

बीजेपी के बड़े नेता रहे चुप
आकाश विजयवर्गीय की इस करतूत पर बीजेपी के बड़े नेता चुप रहे। कई नेताओं ने तो इसे सही भी ठहराया। लेकिन मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान इस पूरे मसले पर चुप्पी साधे रहे। मीडिया रिपोर्ट्स के अऩुसार बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इस पूरे मामले पर रिपोर्ट मांगी है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned