scriptLocks remain at the sterilization center too | आवारा कुत्तों को लेकर हाई कोर्ट के आदेशों का पालन नहीं, नसबंदी केंद्र पर भी रहते हैं ताले | Patrika News

आवारा कुत्तों को लेकर हाई कोर्ट के आदेशों का पालन नहीं, नसबंदी केंद्र पर भी रहते हैं ताले

- अभी भी शहर में 50 हजार से ज्यादा कुत्तों की नहीं हुई है नसबंदी

इंदौर

Published: January 10, 2022 12:53:34 pm

इंदौर. नगर निगम के तमाम दावों के बाद भी शहर में आवारा कुत्तों पर नियंत्रण नहीं हो रहा है। लगातार बढ़ती इनकी संख्या के कारण औसतन 100 लोग इनके शिकार हो रहे हैं। कुत्तों की संख्या कम करने को लेकर 2019 में हाई कोर्ट ने भी जनहित याचिका पर विस्तृत आदेश दिया था, लेकिन उसका पालन नहीं हो रहा है। कुत्तों की नसबंदी के लिए दो केंद्र हैं, लेकिन छावनी स्थित केंद्र पर अधिकतर ताले ही दिखाई देते हैं। शनिवार दोपहर में जब पत्रिका टीम छावनी केंद्र पर गई तो वहां ताला लगा था। आसपास के दुकानदार और रहवासियों का कहना है केंद्र कम समय के लिए ही खुलता है। कमेटी तो बनी पर नहीं होती नियमित बैठकें आवारा कुत्तों के नियंत्रण को लेकर 2013 में एडवोकेट अमिताभ उपाध्याय ने जनहति याचिका दायर की थी। याचिका के विचारण के दौरान कई निर्देश दिए गए थे, मई 2019 में कोर्ट ने पांच पेज का अंतिम आदेश दिया था। कोर्ट ने पांच सदस्यीय कमेटी का गठन करने के साथ ही कुत्तों की नसबंदी सहित जनजागरूकता के कार्यक्रम चलाने के निर्देश दिए थे। शहर के सरकारी अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में एंटी रेबिज टीके रखने को कहा गया था, लेकिन आज भी शहर में सिर्फ एक ही सरकारी अस्पताल में यह सुविधा है। पांच सदस्यीय समिति को हर दो माह में कुत्तों की संख्या को नियंत्रण सहित अन्य विषयों की मॉनिटरिंग करना थी, लेकिन तीन साल में कम ही बैठकें हुई हैं। 1.75 लाख अवारा श्वान नगर निगम की पशु जन्म नियंत्रण योजना के प्रभारी डॉ. उत्तम यादव ने बताया, इस समय शहर में करीब 1.75 लाख अवारा श्वान हैं। हर दिन औसतन 60 से 70 कुत्तों की नसबंदी की जाती है। लगातार किए जा रहे प्रयासों के बाद भी अभी शहर में करीब 50 हजार कुत्ते हैं जिनकी नसबंदी नहीं हुई है। यादव का कहना है प्रतिदिन होने वाली नसबंदी की संख्या बढ़ाने की योजना बनाई जा रही है। छावनी और ट्रेंचिंग ग्राउंड दोनों ही सेंटर पर नियमित रूप से काम होता है।
आवारा कुत्तों को लेकर हाई कोर्ट के आदेशों का पालन नहीं, नसबंदी केंद्र पर भी रहते हैं ताले
आवारा कुत्तों को लेकर हाई कोर्ट के आदेशों का पालन नहीं, नसबंदी केंद्र पर भी रहते हैं ताले

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Uttarakhand Election 2022: रुद्रप्रयाग में अमित शाह ने पूछा, कैसी सरकार चाहिए, विकास या भ्रष्टाचार वाली?शिवराज सरकार के मंत्री ने राष्ट्रपिता को बताया फर्जी पिता, तीन पूर्व पीएम पर भी साधा निशानापूर्व CM अशोक चव्हाण ने किया खुलासा: BJP सांसद मुरली मनोहर जोशी ने रिपोर्ट में खुद कहा 'PM मोदी सेना के साथ खिलवाड़ कर रहे'NeoCov: नियोकोव वायरस के लक्षण, ठीक होने की दर, जानिए सबकुछPandit Jasraj Cultural Foundation: संगीत के क्षेत्र में भी होना चाहिए तकनीक और आईटी का रिवॉल्यूशन: PM ModiCorona: गुजरात में कोरोना को मात दे चुके हैं 10 लाख से अधिक लोगकाशी विश्वनाथ मॉडल पर बनेगा महांकाल कॉरीडोर, सिंहस्थ-28 पर अभी से कामCovid-19 Update: महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,948 नए मामले, 103 मरीजों की मौत हुई।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.