इस एसडीएम ने जमीन छुड़ाने के नाम पर ले ली 42 लाख की रिश्वत.....

इस एसडीएम ने जमीन छुड़ाने के नाम पर ले ली 42 लाख की रिश्वत.....

Pramod Mishra | Updated: 16 Jul 2019, 10:23:15 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

खंडवा के व्यापारी ने पेश की थी आडियो रिकार्डिंग, एसडीएम ने नहीं दिया आवाज का सेंपल


इंदौर. लोकायुक्त ने खंडवा में अधिग्रहित जमीन वापस दिलाने के नाम पर व्यापारी से किस्तों में करीब 42 लाख रुपए हड़पने के मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा में केस दर्ज किया है। खंडवा के व्यापारी ने रुपयों के लेन-देन को लेकर आडियो रिकार्डिंग प्रस्तुत की थी जिसके आधार पर केस दर्ज हुआ है।
लोकायुक्त एसपी सव्यसाची सराफ के मुताबिक, शिकायत की जांच के आधार पर खंडवा के तत्कालीन एसडीएम महेंद्रसिंह कवचे के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण (संसोधित) अधिनियम 2018 की धारा 7 (क), (ख) के तहत केस दर्ज किया है। खंडवा के व्यापारी जाकिर हुसैन मदनी की शिकायत पर यह केस दर्ज किया है। जाकिर हुसैन की करीब 3.58 एकड़ जमीन खंडवा में है जो म्यूनिशिपल कमेटी खंडवा ने अधिग्रहित कर ली थी। जमीन अधिग्रहण के बाद इस्तेमाल नहीं हो रही थी जिसके कारण फरियादी उसे वापस हासिल करने के लिए प्रयास कर रहा था। इस बीच इमरान नामक व्यक्ति से उसकी बात हुई तो उसने एसडीएम कवचे के जरिए काम करने का आश्वसान दिया। जांच अधिकारी निरीक्षक राजकुमार सराफ के मुताबिक, आरोप है कि एसडीएम ने जमीन वापस दिलाने का वादा किया और फिर वर्ष 2013-14 में किस्तों में फरियादी से करीब 42 लाख रुपए लिए। इस बीच एसडीएम का ट्रांसफर खरगोन हो गया। फरियादी ने बाद में इमरान के जरिए एसडीएम से बात कर पूरी रिकार्डिंग कर ली।रिकार्डिंग में एसडीएम ने पैसे लेने की बात मानी और यह भी कहा कि जमीन वापस होने की प्रक्रिया चल रही है। थोड़ा समय लगेगा। बाद में एसडीएम का तबादला आगर-बड़ौद हो गया।
फरियादी ने रिकार्डिंग लोकायुक्त अफसरों के समक्ष पेश कर शिकायत कर दी। लोकायुक्त ने नोटिस देकर एसडीएम को आवाज का सेंपल देने के लिए बुलाया लेकिन वह नहीं आए। मई 2019 में एसडीएम ने आवेदन देकर सेंपल देने से इनकार कर दिया था। लोकायुक्त जांच में अफसर द्वारा बेइमानी किए जाने पर केस दर्ज किया है। अब एक बार फिर एसडीएम को आवाज की सेंपल के लिए बुलाया जाएगा। नहीं आने पर न्यायालय मेें आवेदन होगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned