व्यापारी को लूटने वाले बदमाशों ने पकड़े जाने पर पुलिसकर्मी पर तानी पिस्टल

व्यापारी को लूटने वाले बदमाशों ने पकड़े जाने पर पुलिसकर्मी पर तानी पिस्टल
accused arrest

Krishnapal Singh Chauhan | Publish: Feb, 17 2019 05:02:04 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

एरोड्रम थाना क्षेत्र का मामला, फुटेज में कैद आरोपियों की पहचान के लिए पुलिस बनी उनकी करीबी

 

किराना व्यापारी को दादा राम बोलने के बाद लूटकर भागे बाइक सवार बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। टीम जब बदमाशों को दबोचने पहुंची तो पकड़े जाने के डर से एक बदमाश ने पुलिसकर्मी पर पिस्टल तान दी। घटना के बाद भागे बदमाशों की तलाश में कई सीसीटीवी फुटेज मिले। इसके बाद आरोपियों तक पहुंचने के लिए पुलिस ने उनका करीबी बनने का नाटक किया। फिल्मी स्टाइल में पकड़ाए आरोपियों ने पूछताछ में जुर्म कबूला है। पुलिस ने उनकी निशानदेही से लूट का माल बरामद किया है।

एएसपी मनीष खत्री के मुताबिक किराना व्यापारी भंवरलाल गुप्ता (६०) निवासी सुविधी नगर से ४५ हजार लूटने के मामले में आरोपी गणेश उर्फ बल्ली पिता प्रिते सिंह, रितीक पिता कैलाश बैरागी, शुीाम पिता हेमराज बडोदिया सभी निवासी नंदबाग कॉलोनी को गिरफ्तार किया है। छह दिन पूर्व आरोपियों ने व्यापारियों को रैकी के बाद लूटने की साजिश रची। एक बाइक पर बैठे सभी आरोपियों ने फरियादी को उनके घर के बाहर निशाना बनाया। वे एक्टिवा की डिक्की से नकदी से भरा बैग लेकर पलटते इतने में आरोपियों ने उन्हें दादा राम कहने के बाद धक्का दिया। फिर बेग लूट कर भागे निकले। सभी आरोपी इलाके की सकरी गलियों से भागे थे। उनकी तलाश में टीम जांच करती रही। करीब ५० स्थानों के सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर आरोपियों के हुलिए पता चले।

पकड़ाए तो तानी पिस्टल

एएसपी ने बताया की टीआई अशोक पाटीदार की टीम बाइक व उसके नंबर के आधार पर आरोपियों को ढुढने लगी। जिस दिशा में बदमाश भागे थे टीम उन्हें तलाशते नंदबाग पहुंची। बदमाश को यकीन हो गया था की वह पकड़े जाएेंगे। इसलिए वे कॉलोनी से भाग निकले। टीम ने सिविल ड्रेस में कॉलोनी के लोगों से मिलने पहुंची। उन्होंने फुटेज से निकाली तस्वीर बताते हुए अनजान व्यक्ति से पूछा की यह मेरा दोस्त है इसका एक्सीडेंट हो गया है।इसके जानते हो क्या? एक व्यक्ति ने तीनों को पहचानते हुए उनके घर की दिशा भी बता दी। टीम लगातार आरोपियों की गतिविधियों पर नजर बनाए हुई थी। फिर मुखबिर से सूचना मिली की आरोपी छोटा बांगडदा के समीप स्थित सुपरा कॉरिडोर के सर्विस रोड पर खड़े है। टीम ने घेराबंदी की तो सभी पकड़े जाने के डर से भागने लगे। एक आरोपी ने तो टीम के एएसआई पर पिस्टल तान दी। कुछ देर के लिए पुलिसकर्मी घबरा गए। लेकिन जब बदमाश ने डराने के लिए पिस्टल का ट्रिगर दबाया तो पता वह असल में एेयर गन है। सभी आरोपियों को पकडक़र सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने जुर्म कबूला। उनकी निशानदेही पर लूट के आठ हजार बरामद किए है। आरोपी गणेश वारदात का मास्टरमाइंड है। सभी आरोपियों से पूर्व में हुई घटना के संबंध में पूछताछ कर रहे है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned