एक पौधा लगाओ और करो रक्तदान

जनचेतना और सामाजिक सरोकार के साथ मनेगी प्रताप जयंती

By: Pawan Rathore

Published: 24 May 2018, 10:17 AM IST

इंदौर।
महाराणा प्रताप और छत्रसाल की जयंती इस साल जनचेतना और सामाजिक सरोकार के साथ मनाई जाएगी। फोकस पर्यावरण सुधार और पौधारोपण पर होगा। इसके लिए घर-घर जाकर पौधारोपण करने का तय किया गया, साथ ही रक्तदान के लिए भी संकल्प दिलवाया जाएगा।
प्रताप जयंती 16 जून को है। इसके लिए सात दिन तक अलग-अलग कार्यक्रम किए जाएंगे। जयंती और सप्ताहभर के कार्यक्रमों की रूपरेखा तय करने के लिए राजपूत समाज संरक्षक मोहन सेंगर की अगुवाई में अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा की प्रदेश कार्यकारिणी के साथ शहर और युवा इकाई की बैठक हुई। इसमें महाराणा प्रताप ओर महाराजा छत्रसाल की जयंती के कार्यक्रमों के लिए पदाधिकारियो को जवाबदारियां सौंपी गईं।

महासभा के प्रदेश अध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह गौतम और शहर अध्यक्ष बन्टी ठाकुर ने बताया कि समाजसेवा के साथ जयंती मनाए जाने का संकल्प लिया गया है। इसमें पर्यावरण और स्वास्थ के प्रति जागरुकता, पौधारोपण और रक्तदान करवाया जाएगा। बैठक में प्रदेश प्रवक्ता पंकज सिंह चौहान, संगठन मंत्री समरेंद्र सिंह चौहान, राजपूताना सुपर 100 के संयोजक रविनेश सिंह राठौर और पदाधिकारी मौजूद थे।
घर-घर जाकर देंगे निमंत्रण
जयंती पर 16 जून को प्रताप पराक्रम यात्रा निकाली जाएगी। यह कालानी नगर से सुबह 8 बजे शुरू होगी और विभिन्न मार्र्गों से होकर महूनाका स्थित प्रताप प्रतिमा पर खत्म होगी। यहां माल्यार्पण के साथ सभा होगी। इस यात्रा के लिए प्रदेश के साथ शहर और युवा इकाई के पदाधिकारी और सदस्य घर-घर जाकर निमंत्रण देंगे। निमंत्रण बांटने का काम इसी रविवार से शुरू होगा।
पौधारोपण और रक्तदान का संकल्प
घर-घर निमंत्रण देने के दौरान समाजजनों से संकल्प दिलवाया जाएगा कि हर व्यक्ति कम से कम एक पौधा जरूर लगाए। हर घर के सामने एक पेड़ तो होना ही चाहिए। वहीं रक्तदान के लिए भी प्रेरित किया जाएगा कि हर व्यक्ति समय-समय पर रक्तदान करे और किसी जान बचाने में सहयोगी बने। महासभा खुद भी पौधारोपण और रक्तदान के कार्यक्रम करवाएगी।

Pawan Rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned